DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  काशीपुर  ›  काशीपुर में व्यापारियों और पुलिस में नोकझोंक
काशीपुर

काशीपुर में व्यापारियों और पुलिस में नोकझोंक

हिन्दुस्तान टीम,काशीपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:00 PM
काशीपुर में व्यापारियों और पुलिस में नोकझोंक

काशीपुर। संवाददाता

कोरोना संक्रमण रोकथाम को लागू कोविड कर्फ्यू के बीच मिली ढील में सभी दुकानें खोलने को लेकर व्यापारियों ने मेन मार्केट में हंगामा किया। एक व्यापारी को जबरन कोतवाली ले जाने पर व्यापारी ने व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष के साथ कोतवाली पहुंचकर विरोध जताया। साथ ही कहा इस तरह से व्यापारियों के साथ सलूक करना गलता है। व्यापारी कोई क्रिमिनल नहीं है।

कोविड कर्फ्यू में जिला प्रशासन ने केवल आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खोलने की अनुमति दी है। इसके लिए प्रशासन ने समय सीमा भी निर्धारित करते हुए सुबह आठ से पांच बजे तक दुकान खोलने की अनुमति दे रखी है। गुरुवार को मुख्य बाजार के व्यापारियों ने बाजार खोलने की मांग करते हुए हंगामा काटा। इधर घटना की सूचना मिलने पर कोतवाल बीसी जोशी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। इस दौरान व्यापारियों की दुकान खोलने को लेकर कोतवाली से तीखी नोकझोंक हो गई। वहीं पुलिस एक व्यापारी को जबरन पुलिस वाहन में बैठाने लगी। जिस पर व्यापारी भड़क गए। उन्होंने कहा व्यापारी कोई अपराधी नहीं हैं। इस तरह से पुलिस का व्यवहार गलत है। कहा व्यापारी पहले ही कोविड कर्फ्यू के चलते परेशान हैं। लगभग डेढ़ माह से अधिक हो गया कई दुकानदारों ने तो अपनी दुकान अभी तक खोलकर भी नहीं देखी है। व्यापारियों के हंगामा करने पर पुलिस ने बाजार की सभी दुकानें बंद करा दी। इससे व्यापारियों में आक्रोश फैल गया। व्यापारियों ने चेतावनी यदि शीघ्र कोविड कर्फ्यू नहीं हटाया गया तो व्यापारी अपने-अपने प्रतिष्ठान स्वयं खोलने को मजबूर हो जाएंगे।

प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्रभात साहनी ने कहा व्यापारियों की सभी दुकान खोलने की मांग को लेकर पुलिस से नोकझोंक हुई थी। जानकारी मिलने पर वह भी अन्य साथियों के साथ कोतवाली पहुंच गए। जहां उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की सभी व्यापारियों को दुकानें शासन-प्रशासन तय समयसीमा में खोलने की अनुमति दे। क्योंकि व्यापारी काफी परेशान हो चुका है और अब आर्थिक समस्या खड़ी होने लगी है।

संबंधित खबरें