अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाजपुर में भाजपा समर्थित विमल-बलजिंदर जीते

बाजपुर में भाजपा समर्थित विमल-बलजिंदर जीते

क्रय-विक्रय सहकारी समिति के संचालक मंडल के लिए दो पदों पर हुए चुनाव में भाजपा समर्थित विमल शर्मा और बलजिंदर सिंह ने जीत दर्ज की। इस दौरान कांग्रेसियों ने अधिकारियों पर सत्ता के दबाव में जबरन चुनाव जिताने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। मौके पर आई पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ दिया।मंगलवार को 10 बजे क्रय विक्रय सहकारी समिति में मतदान सुबह दस बजे शुरू हुआ। चुनाव शाम चार बजे तक चला। इसके बाद हुई मतगणना में वार्ड नंबर आठ रंपुरा शाकर समिति के लिए बलजिंदर सिंह बल्लू संचालक चुने गए। बलजिंदर को 70 और उनके प्रतिद्वंद्वी अनीस आलम को 60 मत मिले। एक वोट निरस्त हुआ। दूसरी तरफ मझरा प्रभु वार्ड से विमल शर्मा को 242 और तनवीर खां गुड्डू को 240 मत मिले। अशोक गौतम को 25 मत हासिल हुए जबकि 10 वोट रद हुए। देर शाम मतगणना के दौरान विमल शर्मा को दो वोटों से विजेता घोषित कर दिया गया। इधर, कांग्रेस समर्थकों ने मतगणना स्थल पर पहुंचकर जबरदस्त हंगामा किया। इनका आरोप था कि अधिकारियों ने सत्ता पक्ष के दबाव में आकर मतदान प्रभावित किया। कांग्रेसियों ने पुन: मतगणना की मांग की। पुन: मतगणना के बाद दोबारा विमल शर्मा को दो मतों से विजयी घोषित कर दिया। इस दौरान पुलिस बल ने हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ दिया। दूसरी तरफ जीत से उत्साहित भाजपाइयों ने नगर में जुलूस निकाला मिष्ठान वितरण किया। संचालक आज चुनेंगे अध्यक्ष और उपाध्यक्षबाजपुर। क्रय-विक्रय सहकारी समिति में संचालकों के 14 पद हैं। इनमें चार पद केलाखेड़ा और बरहैनी समिति से भरे जाने थे। मगर यहां से अभी तक कोई संचालक नामित होकर नहीं आया है। बचे 10 पदों में 6 संचालक (दो प्रथम किसान सेवा सहकारी समिति, दो द्वितीय किसान सेवा सहकारी समिति, एक फौजी कॉलोनी व एक अन्य समिति) से नामित होकर क्रय-विक्रय सहकारी समिति में आए हैं। हजीरा वार्ड से संचालक का चुनाव निर्विरोध हो चुका है। जबकि मजरा प्रभु और रम्पुरा दो वार्डों के लिए बुधवार को मतदान हुए। एक संचालक शासन से नामित होकर आएगा। संचालक मंडल के कुल 10 सदस्य 13 सितंबर को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP supported Vimal and Baljinder won elections