DA Image
28 नवंबर, 2020|10:35|IST

अगली स्टोरी

काशीपुर में 11वीं की छात्रा और मजदूर ने फांसी लगाई

default image

दो अलग-अलग घटनाओं में अज्ञात कारणों के चलते जहां एक छात्रा ने घर पर चुन्नी से फांसी पर लटककर जान दे दी, वहीं एक मजदूर ने घर के पास ही आम के बाग में पेड़ से फांसी पर लटककर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों के हवाले कर दिया है।

केस नंबर-01

ग्राम फिरोजपुर निवासी आंकाक्षा (18) पुत्री स्व.रामेश्वर एक स्कूल में कक्षा-11 की छात्रा थी। पिता की मौत के बाद मां रोशनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री के रुप में काम करने लगी। बुधवार की सुबह रोशनी खेत पर गई थी। जबकि आंकाक्षा घर पर अकेली थी। इसी बीच आकांक्षा ने अपनी चुन्नी से छत के कुंडे से फांसी पर लटककर आत्महत्या कर ली। वापस आने पर फांसी पर लटका देख मां ने शोर मचा दिया। आनन-फानन में छात्रा को नीचे उतारकर एक निजी अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया। आकांक्षा की एक बड़ी बहन शिवानी है, जिसकी ग्राम जुड़का में शादी हो चुकी है। मौत के बाद मां का रोकर बुरा हाल है। पुलिस आत्महत्या के कारणों की जांच कर रही है।

केस नंबर-02आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम जैतपुर घोसी निवासी गोपाल (31) पुत्र वीर बहादुर मजदूरी करता था। वह परिवार के साथ सड़क किनारे झोपड़ी बनाकर रह रहा था। मंगलवार की रात करीब नौ बजे वह घर से निकला और रात भर वापस नहीं लौटा। बुधवार की सुबह परिजनों ने जब खोजबीन शुरू की तो वह घर से कुछ दूरी पर स्थित आम के बाग में पेड़ पर फांसी पर लटका मिला। परिजन पुलिस के पहुंचने से पहले शव को नीचे उतारकर घर ले आये। बताया जा रहा है कि इसी पेड़ पर पहले भी एक व्यक्ति फांसी पर लटककर आत्महत्या कर चुका है। परिजनों के अनुसार मृतक पांच भाई-बहनों में सबसे बड़ा था। वहीं पुलिस के अनुसार गोपाल शराब पीने का आदी था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:11th student and laborer hanged in Kashipur