Water logging problem will be solved soon - हरिद्वार में होगा जलभराव की समस्या का समाधान DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरिद्वार में होगा जलभराव की समस्या का समाधान

शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने सीसीआर के मेला नियंत्रण भवन में जिला प्रशासन, भेल, अमृत योजना और एनएचआई के अधिकारियों से जलभराव के निस्तारण के लिए बैठक की। बैठक में अमृत योजना के तहत तैयार किए गए प्रोजेक्ट का निरीक्षण किया। मंत्री ने जल निकासी की योजना को दीर्घकालीन और स्थायी बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि बरसात के दौरान शहर में जलभराव की समस्या के निस्तारण के लिए पानी को रानीपुर रो में छोड़े जाने की योजना बनाई गई है। मंत्री ने कहा कि शहर में आने वाले जल की निकासी के लिए पचास प्रतिशत भारत सरकार और पचास प्रतिशत राज्य सरकार वहन करेगी। मंत्री ने भेल के अधिकारियों को दिल्ली स्थित भेल कार्यालय से जल निकासी की कार्ययोजना के लिए दस दिनों के भीतर एनओसी की मांग करने के निर्देश दिए। ताकि भारत सरकार को इस योजना के लिए पचास प्रतिशत धनराशि का मांग भेजी जा सके। मदन कौशिक ने भेल क्षेत्र में निर्माणाधीन सांस्कृतिक भवन का निर्माण भेल के अधिकारियों को स्वयं या जिला प्रशासन को करने देने की बात भी कही।

बैठक में मेयर मनोज गर्ग, जिलाधिकारी दीपक रावत, नगर आयुक्त नितिन नितिन भदौरिया, एडीएम ललित नारायण मिश्रा, एसडीएम मनीष कुमार, भेल के जीएमआई संजय गुलाटी, महाप्रबंधक मानव संसाधन संजय सिन्हा, एनएचआई के वैज्ञानिक डीएस राठौर, संजय कुमार व जगदीश पात्रा, ईई जल संस्थान नरेशपाल सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Water logging problem will be solved soon