DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिसकर्मी से मारपीट करने वाले चाचा-भतीजे को एक साल की कैद

पुलिसकर्मी से मारपीट व सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने के मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट आरके श्रीवास्तव ने दो आरोपियों को दोषी करार दिया है। कोर्ट ने दोनों को एक-एक वर्ष का कठोर कारावास और नौ-नौ हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी रिश्ते में चाचा भतीजे है।

घटना तीन अगस्त वर्ष 2011 की है, जब भीमगोड़ा बैरियर पर तैनात कांस्टेबल अनुराग सिंह रावत के साथ पंकज सुखीजा और रिंकू सुखीजा ने मारपीट की थी। आरोप है कि दोनों ने पुलिसकर्मी को गाली गलौच की और वर्दी फाड़ दी। शोर मचाने के बाद पहुंचे लोगों को देखकर दोनों आरोपी मौके से भाग खड़े हुए। पुलिसकर्मी की शिकायत पर पंकज सुखीजा पुत्र बालकृष्ण सुखीजा और रिंकू सुखीजा पुत्र अनिल सुखीजा निवासीगण भीमगोड़ा हरिद्वार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस ने जांच के बाद दोनों आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया। सरकारी अधिवक्ता कल्पना पांडेय ने बताया कि आरोपी पंकज सुखीजा और रिंकू सुखीजा दोनों को एक-एक वर्ष की कैद और नौ-नौ हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है। साक्ष्य में सरकारी अधिवक्ता ने छह गवाह पेश किए। जुर्माना राशि जमा न करने पर दोनों आरोपियों को एक-एक माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। बता दें कि पंकज सुखीजा रिश्ते में रिंकू सुखीजा का चाचा लगता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two people imprisoned for one year