DA Image
29 नवंबर, 2020|7:49|IST

अगली स्टोरी

हरिद्वार जेल में आईटीबीपी के बर्खास्त जवान ने खुदकुशी की

पत्नी की हत्या में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आईटीबीपी के बर्खास्त जवान ने जिला जेल के अंदर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। डिप्टी जेलर प्रेम सिंह चौहान ने बताया कि कैदी पुआलन उर्फ सी भूपालन (30) पुत्र शंकर निवासी अगरावरम, परदरानी तमिलनाडु को 26 मार्च 2016 को हल्द्वानी जेल से हरिद्वार जिला कारागार में शिफ्ट किया गया था। मानसिक स्थिति ठीक न होने पर उसे जिला कारागार के अस्पताल में भर्ती कराया था। सोमवार को अस्पताल की तन्हाई बैरक में पुआलन ने फंदे से लटककर खुदकुशी कर ली। दिव्यांग बंदी ने सूचना बंदी रक्षकों को दी। जेल अधिकारियों ने कैदी को एंबुलेंस से जिला अस्पताल भिजवाया। जहां ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई।डिप्टी जेलर के मुताबिक पुआलन पत्नी की हत्या में सजा काट रहा था। 14 जून 2013 को पत्नी के साथ मारपीट करने के बाद हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती पत्नी की पुआलन ने गला रेतकर हत्या कर दी थी। मौके पर ही पुआलन को गिरफ्तार कर लिया गया था। बताया जा रहा है कि पत्नी की हत्या के बाद पुआलन को आटीबीपी से बर्खास्त कर दिया गया था।