DA Image
22 अक्तूबर, 2020|10:01|IST

अगली स्टोरी

बिना लाइसेंस के बना डाला सात लाख लीटर सेनेटाइजर

default image

आबकारी विभाग ने सिडकुल की कंपनी में सेनेटाइजर बनाने के गोरखधंधे का खुलासा किया है। छापेमारी के बाद सामने आया है कि कंपनी बिना लाइसेंस के ही तीन माह से सेनेटाइजर बना रही थी। बिना लाइसेंस के कंपनी में सेनेटाइजर बनाने के आरोप में आबकारी पुलिस ने वीएलसीसी कंपनी के खिलाफ आबकारी अधिनियम की धारा 63 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

जिला आबकारी अधिकारी पवन कुमार के मुताबिक सूचना मिली थी सिडकुल की कंपनी वीएलसीसी में लाइसेंस जारी होने से पहले ही कंपनी सेनेटाइजर बना रही है। छापेमारी में मालूम हुआ कि लाइसेंस आठ जून को जारी किया गया है, जबकि कंपनी अप्रैल से सेनेटाइजर बना रही थी। कंपनी में एक लाख लीटर सेनेटाइजर को आबकारी विभाग ने जब्त कर लिया है, जबकि अभी तक छह लाख लीटर सेनेटाइजर कंपनी ने देश भर के कई हिस्सों में भिजवाया है। आबकारी अधिकारी पवन कुमार ने बताया कि कंपनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। दस्तावेज कब्जे में ले लिए गए हैं। लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट आबकारी कमिश्नर को भेजने की तैयारी कर ली गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Seven lakh liter sanitizer made without license