DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्यार्थियों को नवजीवन देने वाली ज्ञानदीक्षा संस्कार

विद्यार्थियों को नवजीवन देने वाली ज्ञानदीक्षा संस्कार

1 / 3देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 33वें ज्ञानदीक्षा समारोह में देसंविवि में संचालित 36 विभिन्न कोर्स के लिए लिथुआनिया, साउथ कोरिया, चीन, वियतनाम, आस्ट्रेलिया, ईरान, आयरलैण्ड व नेपाल के करीब 442...

विद्यार्थियों को नवजीवन देने वाली ज्ञानदीक्षा संस्कार

2 / 3देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 33वें ज्ञानदीक्षा समारोह में देसंविवि में संचालित 36 विभिन्न कोर्स के लिए लिथुआनिया, साउथ कोरिया, चीन, वियतनाम, आस्ट्रेलिया, ईरान, आयरलैण्ड व नेपाल के करीब 442...

विद्यार्थियों को नवजीवन देने वाली ज्ञानदीक्षा संस्कार

3 / 3देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 33वें ज्ञानदीक्षा समारोह में देसंविवि में संचालित 36 विभिन्न कोर्स के लिए लिथुआनिया, साउथ कोरिया, चीन, वियतनाम, आस्ट्रेलिया, ईरान, आयरलैण्ड व नेपाल के करीब 442...

PreviousNext

देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 33वें ज्ञानदीक्षा समारोह में देसंविवि में संचालित 36 विभिन्न कोर्स के लिए लिथुआनिया, साउथ कोरिया, चीन, वियतनाम, आस्ट्रेलिया, ईरान, आयरलैण्ड व नेपाल के करीब 442 नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं को दीक्षित किया गया। समारोह का शुभारंभ कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या, महामंडलेश्वर विश्वेश्वरानंद ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

मुख्य अतिथि महामण्डलेश्वर विश्वेश्वरानंद ने कहा कि ज्ञानदीक्षा कार्यक्रम अनादि काल-प्राचीन गुरुकुलों में चलता था। उस परंपरा को वर्तमान समय में देवसंस्कृति विश्वविद्यालय ने प्रारंभ कर महत्वपूर्ण कार्य किया है। यह विवि एक कल्पवृक्ष की भांति है, जहां सभी युवाओं को आत्म चिंतन का सुख मिलेगा। कुलाधिपति ड़ॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि ज्ञानदीक्षा संस्कार विद्यार्थियों को नवजीवन प्रदान करने वाला है। जीवन में आध्यात्मिकता को उतारने का यह श्रेष्ठ अवसर है। प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने ज्ञानदीक्षा की महत्ता बताते हुए कहा कि आज व्यक्ति की नहीं, व्यक्तित्व की जरूरत है। कुलपति शरद पारधी ने स्वागत भाषण दिया। उदय किशोर मिश्रा ने नवप्रवेशार्थी छात्र-छात्राओं को वैदिक रीति से ज्ञानदीक्षा दिलाई। विवि की रिसर्च जर्नल एवं संस्ति संचार के नवीन संस्करण का विमोचन भी किया गया। इस दौरान विज्ञानानंद, शिवप्रसाद मिश्र, संदीप कुमार आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Researchers give a new life