DA Image
1 दिसंबर, 2020|2:02|IST

अगली स्टोरी

यूपी सेतु निर्माण निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

default image

उत्तर प्रदेश सेतु निर्माण निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर कि हरिद्वार में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। प्रोजेक्ट मैनेजर का शव ज्वालापुर स्थित जुर्स कंट्री के एक कमरे में मिला है। बताया जा रहा है कि बीती रात प्रोजेक्ट मैनेजर का अपनी पत्नी से विवाद हुआ था। उधर पत्नी का कहना है कि उन्होंने सुसाइड की है हालांकि पुलिस मामले को संदिग्ध मान रही है।पुलिस के मुताबिक हाथरस उत्तर प्रदेश निवासी अमरदीप चौहान 36 पुत्र अशोक चौहान यूपी सेतु निर्माण निगम में बतौर प्रोजेक्ट मैनेजर कार्यरत थे। हरिद्वार में शांतिकुंज से लेकर लालतप्पड़ देहरादून तक हाईवे निर्माण की जिम्मेदारी अमरदीप चौहान देख रहे थे। अमरदीप यहां हरिद्वार ज्वालापुर जुर्स कंट्री में अपनी पत्नी और बच्चे के साथ रह रहे थे। घटना का पता गुरुवार की सुबह चला जब पुलिस को सूचना मिली कि अमरदीप चौहान ने आत्महत्या कर ली है। सूचना मिलते ही ज्वालापुर पुलिस मौके पर पहुंची तो अमरदीप का शव एक कमरे में पड़ा हुआ था। पत्नी से जानकारी जुटाई तो मालूम हुआ कि बीती रात मामूली बात को लेकर उनका अपनी पत्नी से विवाद हुआ था। जिसके बाद बुधवार की रात वह अकेले कमरे में सोने चले गए थे। पत्नी का कहना है कि उन्होंने सुसाइड किया है। जबकि पुलिस को मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर जिला अस्पताल की मोर्चरी में भिजवा दिया है। उधर मृतक अमरदीप चौहान के रिश्तेदार हाथरस से हरिद्वार पहुंच गए हैं। मृतक के गले में निशान भी हैं। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। प्रोजेक्ट मैनेजर पिछले 1 साल से ज्वालापुर में रह रहे थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Project manager of UP Sethu Nirman Nigam dies under suspicious circumstances