DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस ने आठ दिन बाद खाई से निकाला शव

मनसा देवी की खाई में पड़े दिव्यांग युवक के शव को पुलिस ने आठ दिन बाद बुधवार को बाहर निकाल लिया, जबकि राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क के कर्मचारियों ने एक सप्ताह पूर्व ही खाई में शव पड़े होने की सूचना दी थी। बुधवार को शव में से दुर्गंध आने के बाद पार्क के अधिकारियों ने पुलिस अधिकारियों को सूचना दी। जिसके बाद शव को बाहर निकाला गया। अंदेशा जताया जा रहा है कि दिव्यांग युवक की मौत खाई से गिरने के कारण हुई होगी।

राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क के कर्मचारियों ने शव को खाई में पड़ा देखा था। कर्मचारियों ने मामले की जानकारी इलाके की चेतक पुलिस और बीट पुलिस को दी थी। सूचना देने के सात दिन बाद भी शव को खाई से नहीं निकाला गया। बुधवार को शव से दुर्गंध आने लगी। इस पर मनसा देवी जाने वाले यात्रियों ने पार्क के कर्मचारियों को जानकारी दी। कर्मचारियों ने अपने अधिकारियों को पूरे मामले से अवगत कराया। जिसके बाद पुलिस के अधिकारियों के संज्ञान में मामला डाला गया। मामला सामने आते ही आनन फानन में शव को खाई से बाहर निकाला। तलाशी में मृतक के पास एक आईडी मिली है। जिसमें उमेश (40) पुत्र प्रकाश निवासी बुलंदशहर लिखा हुआ है। बुधवार को घटना पता चलने के बाद हरिद्वार की पुलिस की कार्यशैली को लेकर तरह तरह की चर्चाएं होती रहीं। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक शव की हालत काफी खराब हो गई थी। जानवरों ने शव को खाने का भी प्रयास किया था। पुलिस मान रही है कि मनसा देवी जाते समय खाई में गिरने से युवक की मौत हुई होगी। पुलिस बुलंदशहर की पुलिस से संपर्क कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police found dead bodies after eight days