DA Image
30 सितम्बर, 2020|5:51|IST

अगली स्टोरी

वाहन बीमा क्लेम राशि देने के आदेश

default image

जिला उपभोक्ता फोरम ने बीमा कंपनी को उपभोक्ता सेवा में कमी करने का दोषी पाया है। फोरम ने यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को वाहन क्लेम राशि 3,15000 तीन लाख पन्द्रह हजार रुपये छह प्रतिशत वार्षिक ब्याज की दर से और वाद खर्च पांच हजार रुपये शिकायतकर्ता को अदा करने के आदेश दिए हैं।

शिकायतकर्ता अखलाक पुत्र महमूद निवासी ग्राम भनहेड़ा टांडा रुड़की ने बीमा कंपनी मण्डलीय कार्यालय यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड रानीपुर मोड़ व कार्यालय चेन्नई तमिलनाडु के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी।उसने अपने चारपहिया वाहन का स्थानीय बीमा कंपनी के प्रतिनिधि से बीमा पॉलिसी कराई थी। जिसकी वैधता अवधि अक्टूबर 2017 तक थी। लेकिन मार्च 2017 में वाहन चालक श्रवण कुमार के घर के बाहर से चोरी हो गया था। शिकायतकर्ता ने स्थानीय पुलिस को चोरी की सूचना दी थी। इसके बाद बीमा कंपनी को सूचना देकर क्लेम की मांग की। बीमा कंपनी को सभी कागजात उपलब्ध कराए गए थे। लेकिन बीमा कंपनी के प्रतिनिधि गलत तथ्य भेजकर कलेम फाइल बंद करने की धमकी देने लगे थे। यही नहीं, बाद में बीमा कंपनी के कर्मचारी ने क्लेम फाइल बंद करके क्लेम राशि देने से इंकार कर दिया था। थक हारकर शिकायतकर्ता ने फोरम की शरण ली थी। शिकायत की सुनवाई के बाद फोरम अध्यक्ष कंवर सैन, सदस्य अंजना चड्डा व विपिन कुमार ने बीमा कंपनी को उपभोक्ता सेवा में लापरवाही व कमी करने का दोषी ठहराया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Order to give insurance claim amount