Order to give claim money to insurance company - बीमा कंपनी को क्लेम धनराशि देने का आदेश DA Image
11 दिसंबर, 2019|3:27|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीमा कंपनी को क्लेम धनराशि देने का आदेश

default image

जिला उपभोक्ता फोरम ने दी न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड मंडलीय कार्यालय रानीपुर हरिद्वार को उपभोक्ता सेवा में कमी करने का दोषी पाया है।

शिकायतकर्ता महिला दीपा रानी पत्नी मोहनलाल अग्रवाल निवासी मोहल्ला हज्जाबान ज्वालापुर हरिद्वार ने मंडल प्रबन्धक, दी न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, रानीपुर मोड़ के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायतकर्ता ने चारपहिया वाहन खरीदा था। जिस पर शिकायतकर्ता ने अपने वाहन की एक पॉलिसी बीमा कंपनी से एक साल के लिए कराई थी। 26 सितम्बर 2016 को शाम पांच बजे देहरादून से हरिद्वार आते हुए दूसरे वाहन चालक ने तेजी से ओवरटेक किया था। इस पर शिकायतकर्ता का वाहन अनियंत्रित होकर खंबे से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गया था। यही नहीं, इसी दौरान एक बाइक सवार युवक ने भी पीछे से टक्कर मार दी थी। बीमा कंपनी के प्रतिनिधि को सूचना दी थी। बीमा कंपनी द्वारा नियुक्त सर्वेयर ने अपनी प्रस्तुत रिपोर्ट में सभी तथ्य सही नहीं रखे थे। जिसके बाद बीमा कंपनी ने क्लेम निरस्त कर दिया था। नोटिस भिजवाने के बाद बीमा कम्पनी ने केवल 14,450 रुपये ही दिए थे। थक हारकर शिकायतकर्ता ने फोरम की शरण ली थी। उक्त शिकायत की सुनवाई के बाद जिला उपभोक्ता फोरम अध्यक्ष कंवर सैन, सदस्य अंजना चड्ढा और विपिन कुमार ने बीमा कंपनी के मंडल प्रबंधक को उपभोक्ता सेवाओं में कमी का दोषी ठहराते हुए अवशेष वाहन मरम्मत खर्च राशि 41,492 रुपये और वाद खर्च के रूप में पांच हजार रुपये शिकायतकर्ता को देने के आदेश दिए हैं। साथ ही, शिकायत के पक्षकार शिकायत दाखिल करने से लेकर वर्तमान तक उक्त धनराशि पर छह प्रतिशत वार्षिक ब्याज लेने का अधिकारी होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Order to give claim money to insurance company