DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्य आन्दोलनकारी ने दी आंदोलन की चेतावनी

जिला प्रशासन की ओर से चिह्नित राज्य आन्दोलनकारियों के चिह्नीकरण की सूची रोकने पर राज्य आन्दोलनकारियों में भारी आक्रोश है। उत्तराखंड राज्य आन्दोलनकारी संघर्ष समिति ने बैठक कर सूची जारी नहीं करने पर गुस्सा जाहिर की। समिति सात जून को जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर शीघ्र सूची जारी करने की मांग करेगी। ऐसा न होने पर चरणबद्ध आन्दोलन की चेतावनी दी गई है।अध्यक्ष सतीश जोशी ने कहा कि जिला प्रशासन की चिह्नीकरण की तीन बैठकों में चिह्नित राज्य आन्दोलनकारियों की सूची को अंतिम रूप दे दिया गया था। राज्य आन्दोलन के दौरान सात उपस्थिति रजिस्टरों को भी कार्यालय में जमा करा दिया गया था। कहा कि भाजपा सरकार राज्य आन्दोलनकारियों की हितैषी होने का ढोंग कर रही है। सरकार के इशारे पर जिला प्रशासन ने सूची जारी नहीं की है। इससे आन्दोलनकारियों में प्रशासन और सरकार के प्रति आक्रोश है। बैठक में जगत सिंह रावत, गोपाल जोशी, केएस रावत, अजब सिंह, सरोजनी जोशी, बबीता डंडरियाल, गोपाल बिष्ट, देवेश्वरी, रामेश्वरी, मदन गौड़, सुशीला रावत, शांति मनोड़ी, निशा कुकरेती, भुवनेश्वरी, लक्ष्मी नेगी, एसएस रावत, शूरवीर सिंह आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:On the path of state movement movement