DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रम विरोधी नीतियों का विरोध करेंगे श्रमिक

सीआईटीयू की जनपद कमेटी सीटू का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया। स्थापना दिवस पर आयोजित गोष्ठी में श्रमिकों ने वर्तमान स्थिति और सीआईटीयू की प्रासंगिकता पर विचार रखे। कार्यकर्ताओं ने केंद्र और प्रदेश सरकारों की श्रम विरोधी नीतियों के विरोध में संघर्ष करने का संकल्प लिया।

जिला महामंत्री एमपी जखमोला ने कहा कि आज के दिन 1970 में कोलकाता में सीआईटीयू की स्थापना की गई थी। संगठित रहो,, संघर्ष करो और आगे बढ़ो संगठन का नारा है। कहा कि आज देश में बेरोजगारी की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। बेरोजगार नौजवानों को स्थाई प्रकृति के कार्यों पर ठेका श्रमिक के तौर पर नियोजित होने पर मजबूर होना पड़ रहा है। कारखानों में श्रम कानूनों का उल्लंघन से श्रमिक शोषण और उत्पीड़न का दंश झेलने को मजबूर हैं। केंद्र सरकार ट्रेड यूनियनों पर हमला करने के लिए लगातार श्रम कानूनों में संशोधन कर रही है। इस दौरान काामरेड़ आरसी धीमान, केएन गुसाईं, अशोक चौधरी, वीरेंद्र सिंह, सतकुमार, कदम सिंह, राधा कृष्ण बडोनी, इमरत सिंह, राज कुमार, सुमनराम बडोनी, उदयवीर सिंह, अरुण कुमार, कयूम आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Labor will oppose anti-labor policies