DA Image
5 अगस्त, 2020|10:50|IST

अगली स्टोरी

मेट्रो अस्पताल में होगा कामगारों का कोविड टेस्ट

default image

सिडकुल क्षेत्र में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के बाद सिडकुल मैन्युफैक्चरिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड(एसएमएयू) और मेट्रो अस्पताल ने एक बड़ा करार किया है। औद्योगिक इकाइयों में कार्यरत 10 फीसदी कर्मचारियों का मेट्रो, रैपिड टेस्ट करेगा। अस्पताल में एक दिन में 200 कर्मचारियों के टेस्ट करने का दावा किया जा रहा है।कोरोना टेस्ट के लिए सिडकुल के कामगारों को अब इधर-उधर भटकने की ज़रूरत नहीं है। प्रशासन के दिशा निर्देश के बाद एसएमएयू ने मेट्रो हॉस्पिटल एन्ड हार्ट इंस्टीट्यूट सिडकुल के साथ एक एमएयू हस्ताक्षर किया है। टेसट के लिए कंपनी को प्रत्येक कर्मचारी के लिए 400 रुपये अदा करने होंगे। बड़ी बात यह कि इकाइयां अपने उन कर्मचारियों की लिस्ट मेट्रो को देगी जिनका टेस्ट होना है इस बिल का भुगतान कंपनी सीधे मेट्रो को करेगी। कर्मचारियों की जांच रिपोर्ट इकाइयों को देने के साथ स्वास्थ्य विभाग को भी दी जाएगी। एसएमएयू इन टेस्ट का डाटा एकत्र करने के लिए अपना नॉन टेक्निकल स्टाफ भी ज़रूरत पड़ने पर उपलब्ध कराएगा।सिडकुल में करीब साढ़े तीन लाख कर्मचारी हैं। इस हिसाब से करीब 35 हज़ार लोगों का टेस्ट होना है। यदि 200 कर्मचारियों के हिसाब से टेस्ट हुआ तो सबका टेस्ट होने में महीनों लग जाएंगे। इसलिए एसएमएयू हरिद्वार में जहां अन्य लैब्स से संपर्क कर रही है वहीं मेट्रो को टेस्टिंग सुविधा बढ़ाने को बोल रही है ताकि जल्द से जल्द टेस्ट हो सके। इन सब दावों के बावजूद एसएमएयू के कार्यकारी अध्यक्ष अनिल शर्मा का कहना है टेस्ट तो शासन प्रशासन के आदेश पर कराए जा रहे हैं लेकिन इसका कोई लाभ नहीं, चूंकि कर्मचारी के पीछे पीछे कोई महीन घूम सकता। साथ टेस्ट रिपोर्ट की कोई गारंटी नहीं है।बाहर होता है 1200 में टेस्टमेट्रो में कोविड 19 का जो रेपिड एंटीजेंट टेस्ट 400 रुपये में किया जा रहा है वही टेस्ट बाहर की लैब्स 1200 से 1600 रुपये में कर रही हैं।इकाइयों और कर्मचारियों के हिट के लिए काफी कम रेट पर यह एमओयू हस्ताक्षर किया गया है। गुरुवार से टेस्ट की प्रकरोया शुरू कर दी गयी है। हमारी कोशिश है कि इस टेस्ट को प्रतिदिन बढ़ाकर 1000 किया जाए, ताकि जल्दी से जल्दी टेस्ट हो सकें। कई अन्य लैब्स से भी वार्ता चल रही है।सुयश वालिया, चेयरमैन कोविड 19, एसएमएयू.सिडकुल कर्मियों के हित को देखते हुए बेहद कम रेट पर यह टेस्ट शुरू किए गए हैं। टेस्ट तेज़ी से हों इसके लिए व्यवस्थाएं और जुटाई जाएंगी। लैब टेक्नीशियन हायर किये जा रहे हैं। फिलहाल एक दिन में 200 टेस्ट ही हो पाएंगे।संदीप वैष्णव, सीईओ, मेट्रो अस्पताल एन्ड हार्ट इंस्टीट्यूट

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kovid test of workers will be done in metro hospital