DA Image
24 सितम्बर, 2020|5:03|IST

अगली स्टोरी

निर्मल संतपुरा में कीर्तन दरबार का आयोजन

निर्मल संतपुरा में कीर्तन दरबार का आयोजन

श्री गुरु नानक देव के 550 वें प्रकाश पर्व के अवसर पर श्रीगुरमत समागम का आयोजन श्रीनिर्मल संतपुरा आश्रम कनखल में किया गया। जिसमें विशेष कीर्तन समागम दरबार का आयोजन किया गया। श्री निर्मल संतपुरा के अध्यक्ष महन्त जगजीत सिंह शास्त्री के सानिध्य में पंजाब से आए रागियों ने शब्द कीर्तन भक्ति भाव का समा बांध दिया। साथ ही आश्रम में श्री गुरु ग्रंथ साहिब के सानिध्य में श्री जपजी साहिब का नियमित पाठ किया जा रहा है।

विशेष कीर्तन समागम में भाई जसकरण सिंह पटियाला वाले और संत बाबा चमकौर सिंह भाई रूपा वाले बठिंडा ने समा बांध दिया और गुरुवाणी को रागों के माध्यम से प्रस्तुति कर वाहवाही लूटी और सभी श्रद्धालु झूम गए उन्होंने गुरु की महिमा के गाने वाले शब्द कीर्तन गाकर माहौल आध्यात्मिक बना दिया। इस अवसर पर निर्मल संत पुरा के अध्यक्ष संत अजीत सिंह ने कहा कि गुरुओं की वाणी सदा ही प्रासंगिक है गुरुओं ने ही सद मार्ग दिखाया है गुरु नानक देव जी ने हमेशा समाज को जोड़ने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव जी के उत्तराखंड में जितने भी उनसे जुड़े तीर्थ स्थल है हम सब के बारे में एक संग्रह करके पुस्तक निर्मल संत पुरा की तरफ से प्रकाशित की जाएगी।