DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वन तस्करों ने खैर के पेड़ काटे

default image

गैंडीखाता लालढांग मार्ग पर कम्पार्टमेंट नम्बर 4 में वन तस्करों ने गुरुवार रात को खैर के 5 पेड़ काट डाले और ट्रक में लोड कर जंगल के रास्ते निकलने लगे। इस दौरन गश्त पर निकली वन विभाग की टीम को सुराग मिल गया। हरकत में आई टीम ने खैर की लकड़ी भरे ट्रक को घेराबंदी कर कब्जे में ले लिया। लेकिन तस्कर और ट्रक चालक मौके से फरार हो गए। कब्जे में लिया गया ट्रक यूपी के जिला बागपत का बताया जा रहा है।इससे पहले तस्करों ने 14 अगस्त को कांगड़ी के पास दो दर्जन खैर के पेड़ काट लिये थे। बीती 27 मार्च को भी चिडि़यापुर में 36 खैर के पेड़ों पर आरी चलाई थी। इसके बाद 22 जुलाई और 30 जुलाई को भी चिड़ियापुर रेंज में तस्करों ने खैर का कटान किया। लेकिन वन विभाग के हाथ नहीं आये। वन क्षेत्राधिकारी चिडि़यापुर मुकेश कुमार का कहना है कि गश्त लगा रही वन विभाग की टीम को लालढांग गैंडीखाता मार्ग किनारे कम्पार्टमेंट नंबर 4 में एक ट्रक के जंगल में जाने की जानकारी मिली। जिस पर टीम द्वारा घेराबंदी कर ट्रक को कब्जे में ले लिया है। ट्रक में खैर की लकड़ी भरी हुई थी। तस्कर मौके से फरार हो गए। जिनकी तलाश की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Forest smugglers smugglers cut down trees