DA Image
23 सितम्बर, 2020|2:35|IST

अगली स्टोरी

फूलों की खेती से किसानों को पहुंचा नुकसान

default image

पथरी क्षेत्र के गांव रानीमाजरा में लॉकडाउन के चलते फूलों की खेती वीरान हो गई है। लॉकडाउन का सबसे बुरा असर फूलों की खेती करने वाले किसानों पर पड़ा है। गांव रानीमाजरा सहित अन्य कई गांव में इन किसानों का लॉकडाउन के कारण सबसे अधिक नुकसान हुआ है। किसान को आस है कि अगर 4 मई को लॉकडाउन खुलता है तो उन्हें कुछ राहत मिल सकती है। किसान रामकुमार, ललित, मुन्ना, सोनू, राजेश, दीपक, सूरज, रोहन, पलटू, मोहित कुमार ने बताया की वे हमेशा फूलों की खेती करते आए हैं। लगभग 20 बीघा में गेंदे और गुलाब की फसल लगाई गई थी। अचानक लॉकडाउन के कारण एक भी फूल नहीं तोड़ा गया और पूरी फसल खेत में खड़ी-खड़ी बर्बाद हो गई। देखरेख नहीं होने से फसल धूप में मुरझा गई और फूल टूटकर जमीन पर गिरने शुरू हो गए है। बताया कि सरकार भी ऐसे किसानों की कोई सुध नहीं ले रही है। फूलों की खेती करने वाले किसानों को अपने परिवार का गुजर बसर करना भी मुश्किल हो रहा है। किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers suffered damage due to floriculture