अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस ने अतिक्रमण हटाने के खिलाफ किया प्रदर्शन

कांग्रेस ने अतिक्रमण हटाने के खिलाफ किया प्रदर्शन

1 / 2कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी के नेतृत्व में ग्रामीणों ने चंडीपुल के नीचे झोपड़ी हटाने और श्यामपुर रेंज से गुज्जरों के डेरे ध्वस्त करने विरोध में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन...

कांग्रेस ने अतिक्रमण हटाने के खिलाफ किया प्रदर्शन

2 / 2कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी के नेतृत्व में ग्रामीणों ने चंडीपुल के नीचे झोपड़ी हटाने और श्यामपुर रेंज से गुज्जरों के डेरे ध्वस्त करने विरोध में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन...

PreviousNext

कांग्रेस नेता गुरजीत लहरी के नेतृत्व में ग्रामीणों ने चंडीपुल के नीचे झोपड़ी हटाने और श्यामपुर रेंज से गुज्जरों के डेरे ध्वस्त करने विरोध में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान पूर्व विधायक अम्बरीष कुमार ने कहा कि सरकार पहले लोगों के रहने की व्यवस्था करे उसके बाद ही उन्हें हटाए। बुध‌वार को श्यामपुर वन विभाग कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन कर नारेबाजी की गई। बता दें कि हाईकोर्ट के निर्देश पर सिंचाई विभाग ने चंडीपुल के नीचे झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले सैकड़ों लोगों को वहां से हटने का नोटिस दे दिया है। उधर वन विभाग ने मंगलवार को लालढांग क्षेत्र में अतिक्रमण हटाते हुए गुज्जरों के डेरों को ध्वस्त कर दिया था।पूर्व विधायक अमरीष कुमार ने भी समर्थन देते हुए कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए जनप्रतिनिधि के साथ अधिकारी बैठक कर रणनीति बनाएं। तब जाकर हटाया जाए। सरकार के द्वारा किसी को बेघर नहीं किया जा सकता है। अगर कोई घर दे नहीं सकता तो किसी को घर उजाड़ने का भी अधिकार नहीं है। अगर पुलिस व प्रशासन की यही गुंडागर्दी रही तो वह धरने पर बैठने पर मजबूर होंगे। गुरजीत सिंह लहरी का कहना है कि चंडीपुल के नीचे की जमीन सिंचाई विभाग की है। वन विभाग लोगों को वहां से हटने को धमका रहा है। वन गुर्जर व चंडीघाट के नीचे बसे झोपड़ पट्टी ग्रामीणों के साथ कांग्रेस अन्याय नहीं होने देगी। अगर बगैर रणनीति के लोगों को हटाया जाता है तो वह आत्मदाह करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। प्रदर्शन करने वालों में कांगड़ी के ग्राम प्रधान राजेश कुमार, साबिर अली, मोहम्मद शफी लोधा, शमशाद, सद्दीक, मुमताज, बिजेंदर सैनी, कपिल सैनी आदि शामिल थे। वन गुर्जरों ने श्यामपुर में किया प्रदर्शनवन गुर्जरों ने बुधवार को श्यामपुर वन विभाग कार्यालय के आगे प्रदर्शन कर नारेबाजी की। बीते दिन वन विभाग ने अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाते हुए गुर्जरों के डेरे जेसीबी से तोड़ दिए थे। वन गुर्जरों की तादात को देखते हुए मौके पर पुलिस बल तैनात किया गया था। वन गुर्जर शमशेर भडाना, मोहम्मद सदीक, मुमताज, सफी लोधा, शमशाद, यूसुफ, लियाकत, बशीर, मुमताज अली, नजाकत आदि ने क्षेत्राधिकारी से मांग है कि सरकार द्वारा कोई निर्धारित रणनीति तय होने तक किसी भी वन गुर्जर परिवारों को अतिक्रमण के नाम पर परेशान न किया जाए। वरना वन गुज्जर बड़े आंदोलन को मजबूर होंगे। परमिटधारी वन गुर्जरों को शासन के आदेश तक नहीं हटाया जाएगा, लेकिन अवैध रूप से रहने वाले गुर्जरों को गुर्जरों के सहयोग से ही हटाया जाएगा। चंडीपुल के नीचे सिंचाई विभाग की जमीन है। वहां से वन विभाग का कोई संबंध नहीं है। -देवेंद्र पुंडीर, वन क्षेत्राधिकारी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress protest against removal of encroachment