DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुंभ और गंगा की अविरलता पर किया मंथन

कुंभ और गंगा की अविरलता पर किया मंथन

1 / 3हिन्दू धर्म आचार्य महासभा की कोर कमेटी की बैठक में इलाहबाद में होने वाले कुंभ और गंगा की अविरलता एवं स्वच्छता को लेकर चर्चा की...

कुंभ और गंगा की अविरलता पर किया मंथन

2 / 3हिन्दू धर्म आचार्य महासभा की कोर कमेटी की बैठक में इलाहबाद में होने वाले कुंभ और गंगा की अविरलता एवं स्वच्छता को लेकर चर्चा की...

कुंभ और गंगा की अविरलता पर किया मंथन

3 / 3हिन्दू धर्म आचार्य महासभा की कोर कमेटी की बैठक में इलाहबाद में होने वाले कुंभ और गंगा की अविरलता एवं स्वच्छता को लेकर चर्चा की...

PreviousNext

हिन्दू धर्म आचार्य महासभा की कोर कमेटी की बैठक में इलाहबाद में होने वाले कुंभ और गंगा की अविरलता एवं स्वच्छता को लेकर चर्चा की गई।

धर्मगुरुओं ने बैठक में इस बात पर विशेष जोर दिया कि कुंभ के जरिए भारत विश्व पटल पर भारतीय संस्कृति का प्रचार आसानी से कर सकता है। बैठक में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, महासभा अध्यक्ष आचार्य महामंडलेश्वर अ‌वधेशानंद गिरि, गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या, भारत माता मंदिर संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि, पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण, राज्य सभा सदस्य सुभाष चंद्रा, जगदीश फुलवे, स्वामी परमानंद, स्वामी ज्ञानानंद शामिल हुए। बुधवार को हरिहर आश्रम में आहूत बैठक दो चरणों में लगभग करीब दो घंटे तक चली। बैठक में श्रीराम मंदिर के मुद्दे को छुआ भर गया। कोर्ट के अधीन मामला होने के कारण सदस्यों ने मामले पर आदेश आने के बाद ही बैठक करने का निर्णय लिया। विशेष रूप से इलाहबाद अर्द्धकुंभ को और बेहतर बनाने की दिशा में कई महत्तवपूर्ण निर्णय लिए गए। कुंभ के दौरान देश भर से दस हजार कलाकारों को मंच देने के साथ ही लोकगीत, देश के अलग-अलग हिस्सों के लोकनृत्य, नाटकों का प्रदर्शन के साथ ही भारतीय संस्कृति से जुड़ी झांकियों को लगाने पर चर्चा कर रणनीति बनाई। प्रमुख आरएसएस मोहन भागवत ने कहा कि कुंभ के माध्यम से विश्व को अच्छा संदेश (वसुधैव कुटुंबकम)देने पर चर्चा की गई। खेत खलिहान व गंगा की अविरलता व स्वच्छता पर ध्यान दिए जाने की जरूरत है। आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि ने कहा कि कुंभ मेले में डेढ़ सौ देशों के प्रतिनिधि शामिल होंगे तो उस मेले के स्वरूप में थोड़ा बदलाव किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Churning on the Avalanche of Kumbh and Ganga