DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क हादसे के मामले में एरा कंपनी के अधिकारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज

सड़क हादसे में युवक की मौत के मामले में ज्वालापुर पुलिस ने एरा कंपनी के अधिकारी और फरार ट्रक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस जांच में एरा कंपनी के अधिकारियों को नामजद किया जाएगा। मृतक के भाई ने आरोप लगाया कि एरा कपंनी के लापरवाही के कारण ही उसके भाई की मौत हुई है। घटना 17 जुलाई की है, जब ज्वालापुर हाईवे पर हरिलोक तिराहे के पास बाइक सवार जितेंद्र पुत्र महेंद्र और मांगेराम पुत्र पलटूराम निवासी बहादरपुर जट, थाना पथरी की ट्रक से टक्कर हो गई थी। दोनों बाइक सवार मजदूरी कर रुड़की से वापस पथरी लौट रहे थे जबकि ट्रक हरिद्वार की तरफ से फ्लाईओवर से नीचे उतर रहा था। आरोप है कि सड़क में गड्ढे व बजरी बिखरी होने के चलते बाइक सवार युवक ट्रक से टकरा गया और घायल हो गया। आनन-फानन में दोनों को भूमानंद अस्पताल ले जाया गया। जहां से हालत गंभीर होने पर डाक्टरों ने जितेंद्र को हायर सेंटर रेफर किया गया था। जौलीग्रांट स्थित हॉस्पिटल से पीजीआइ चंडीगढ़ ले जाने पर जितेंद्र की बीती 26 जुलाई को मौत हो गई। रविवार को मृतक के भाई कुंवर सिंह ने अपने भाई जितेंद्र की मौत का जिम्मेदारी एरा कंपनी के अधिकारियों को माना है। कुवंर ने आरोप लगाया कि एरा कंपनी के अधिकारी और ट्रक चालक की गलती के कारण उसके भाई की जान गई। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद एरा कंपनी के अधिकारी और ट्रक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। यह पहला मौका है, जब सड़क दुर्घटना के बाद एरा कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है, जबकि अधूरे हाईवे के कारण कई सौ लोगों की जानें जा चुकी है। कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि फरार ट्रक चालक की तलाश की जा रही है।वहीं अधिकारियों को जांच में नामजद कर कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Case against the Era company officer in case of road accident