DA Image
24 अक्तूबर, 2020|6:09|IST

अगली स्टोरी

जिला पंचायत की बोर्ड बैठक 15 मिनट में सिमटी

जिला पंचायत की बोर्ड बैठक 15 मिनट में सिमटी

जिला पंचायत की मंगलवार को आयोजित बोर्ड बैठक मात्र 15 मिनट में सिमट गई। दिन में 11. 30 पर शुरू हुई बैठक को ठीक 11. 45 मिनट पर समाप्त कर दिया गया। इस दौरान पूर्व की बैठक में आये प्रस्तावों का अनुमोदन कर नए प्रस्तावों को स्वीकार किया गया। बैठक में विभिन्न इलाकों में लगने वाले हैंडपम्पों और खस्ताहाल सड़कों के निर्माण पर विशेष जोर दिया गया।

कोरोना के चलते करीब तीन माह विलंब से हुई जिला पंचायत की दूसरी बोर्ड बैठक महज औपचारिक नजर आई। जिला पंचायत के उपाध्यक्ष राव आफाक को छोड़ दें तो किसी भी सदस्य की ओर से किसी प्रस्ताव पर चर्चा नहीं की गई। बैठक में सर्वाधिक 44 सदस्य, 4 प्रमुख और 3 विधायक उपस्थित हुए। बैठक को संबोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष वर्मा ने कहा कि इस समय जिले में सर्वाधिक जरूरी पीने के पानी की व्यवस्था और टूटी सड़कों का निर्माण कार्य है जो तेज गति से चल रहा है। फिलहाल 300 के करीब हैंडपम्प लगाए जा चुके हैं जबकि खस्ताहाल सड़कों में सीमेंटेड टाइल्स लगाने का काम जारी है। कहा कि तमाम जिला पंचायत क्षेत्रों की जिम्मेदारी उनकी है इन सभी इलाकों में बिना भेदभाव के विकास कार्य कराए जाएंगे।

पहली बोर्ड बैठक में जिन इलाकों में कार्य स्वीकृत नहीं हो पाए इस बार उनमें जरूरत के हिसाब से कार्य पहले कराए जाएंगे। जो सदस्य बोर्ड बैठक में प्रस्ताव नहीं दे पाए उनके द्वारा बाद में दिए गए प्रस्तावों को भी स्वीकृत किया जाएगा।

जिपं उपाध्यक्ष राव आफाक ने कहा कि बैठक में प्रस्ताव तो मांगे गए लेकिन कितने के प्रस्ताव देने हैं यह नहीं बताया गया। बैठक में प्रतिपक्ष की ओर से तीन प्रमुख प्रस्ताव रखे गए। जिसमें सभी जिपं सदस्यों को 10 हजार सेनेटाइजर, मास्क और राशन किट दी जाएं लेकिन जिसमें किट पर स्वीकृति नहीं दी गयी। उन्होंने कहा कि हैंडपम्प और नालियों को लेकर पूर्व में दिए गए प्रस्तावों पर अभी तक कुछ कार्य नहीं हुआ, जिस पर इस बार कार्य कराने का आश्वासन अध्यक्ष द्वारा दिया गया। उन्होंने पूर्व के काम न होने पर गत बैठक की पुष्टि करने से इनकार कर दिया। जबकि अन्य सदस्यों ने गत बैठक की पुष्टि कर हस्ताक्षर कर दिए।

बैठक में मुख्य रूप से खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, कलियर विधायक फुरकान अहमद, झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल, अपर मुख्य अधिकारी मनबर सिंह राणा, सदस्य रोशन लाल, लतीफन अंसारी, रानी देवयानी सिंह, मोनिका चौहान, विजय पाल, भूप सिंह, सुबोध राकेश, नूर हसन, मोहम्मद सत्तार, अंजुम आदि उपस्थित रहे।

नहीं पहुंचा कोई अधिकारी

जिला पंचायत की इस महत्वपूर्ण बैठक में इस बार प्रशासन का कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा। सीडीओ, कृषि अधिकारी सहित जिले के तमाम प्रमुख अधिकारी बैठक में पूर्व तक उपस्थित होते रहे हैं लेकिन इस बार कोई नहीं पहुंचा।

बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित

बैठक के दौरान विधायक और सदस्यों को ही जाने की अनुमति थी। सदस्यों के करीबी जिस तरह पहले बैठक में पहुंच हंगामा करते थे इस बार किसी को अंदर नहीं घुसने दिया गया।

सोशल डिस्टेंसिंग का किया गया पालन

कोरोना के खतरे को देखते हुए बैठक में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के हाथ सेनेटाइज कर उसका नाम पता दर्ज करने के बाद ही प्रवेश दिया गया। मास्क और सेनेटाइजर वितरित कर सोशल डिस्टेंड का पालन कर बैठक में बैठाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Board meeting of district panchayat confined in 15 minutes