Battery rickshaw driver dies fast - बैटरी रिक्शा चालकों का आमरण अनशन शुरू DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैटरी रिक्शा चालकों का आमरण अनशन शुरू

बैटरी रिक्शा चालकों का आमरण अनशन शुरू

मांग पूरी न होने पर भीमगोड़ा बैटरी रिक्शा चालक एवं मालिक वेलफेयर एसोसिएशन का क्रमिक अनशन आमरण अनशन में परिवर्तित हो गया है। सोमवार को आमरण अनशन पर सुधीर गुप्ता, राजपाल कंडारी, जयपाल सिंह, साहूकार अनशन पर बैठे।

एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार और प्रशासन पर अनदेखी व उपेक्षा करने का आरोप लगाया। उन्होंने प्रशासन से बैटरी रिक्शा चालकों को जीरो जोन में आवाजाही की अनुमति देने की मांग दोहराई। कई संगठनों ने अनशन स्थल पर पहुंचकर आन्दोलन को समर्थन दिया। सचिव सुबोध कुमार गुप्ता ने कहा कि बैटरी रिक्शा चालकों को भीमगोड़ा से हरकी पैड़ी तक जीरो जोन में आवाजाही के लिए जबरन रोका जा रहा है। जबकि ऑटो और अन्य वाहन बेरोकटोक जीरो जोन में आवाजाही कर रहे हैं, जिसका दुष्प्रभाव उनकी आय पर पड़ रहा है। चालकों को मालिकों को किराया देना और परिवारों की गुजर बसर करना भारी पड़ रहा है। एसोसिएशन चार दिन से न्यायोचित मांग को लेकर क्रमिक अनशन कर रही है, लेकिन प्रशासन से उनकी सुध नहीं ली। चिन्हित राज्य आनदोलनकारी समिति के अध्यक्ष जेपी पांडेय, कालूराम जैपुरिया और निकाय चुनाव में भाजपा नेता अन्नू कक्कड़ ने अनशनस्थल पर पहुंचकर आन्दोलन को समर्थन दिया। समर्थन में अनशन पर मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा, पार्षद कैलाश भट्ट, जेपी पांडेय, कालूराम जैपुरिया, मनोज गोस्वामी, लोकेश, बृजेश, कुंदन सिंह, रणवीर सिंह, नितिन, छोटेलाल, सुनील, अनुराग, राज, जीतू यादव, धर्मपाल, विमल, गंगासागर, रमेश, चंदन, धर्मेंद्र, अनिल वशिष्ठ, राजीव पाराशर, गौरव सचदेवा, दिव्यांशु विद्यार्थी, प्रेम शर्मा, तरूण नैय्यर बैठे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Battery rickshaw driver dies fast