अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चेक बाउंस में कारोबारी नेता अनिल जेतली गिरफ्तार

चेक बाउंस में कारोबारी नेता अनिल जेतली गिरफ्तार

चेक बाउंस मामले में ज्वालापुर पुलिस ने कारोबारी नेता अनिल जेतली को मंगलवार रात गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद से ही रात भर पुलिस को कारोबारी नेता को छुड़ाने के लिए कई नेताओं की सिफारिशें आती रहीं। पुलिस ने कारोबारी नेता को देहरादून की कोर्ट में पेश किया है।पुलिस के मुताबिक अनिल जेतली पुत्र जवाहर लाल जेतली निवासी वसंत विहार,ज्वालापुर का विकासनगर निवासी एक ठेकेदार से विवाद चल रहा था। अनिल जेतली रोड कांट्रेक्टर हैं। विकासनगर में अनिल को रोड बनाने का ठेका मिला था। जेतली ने यह ठेका किसी अन्य ठेकेदार को दिया और रोड का काम पूरा करा लिया। रोड बनने के बाद जेतली ने कुछ पैसा ठेकेदार का रोक लिया। आरोप है कि बीते दिनों जेतली ने ठेकेदार को चेक दिया और चेक बाउंस हो गया। कई बार सम्मन आने के बाद भी कारोबारी नेता ने जबाव नहीं दिया और न ही सम्मन को रिसीव किया। विकासनगर न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश पर ज्वालापुर पुलिस ने अनिल जेतली को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार की रात हुई गिरफ्तारी के बाद पुलिस को रात से ही फोन आने शुरू हो गए। उत्तराखंड से लेकर यूपी तक की राजनीति में जेतली की अच्छी खास दखल है। यूपी और उत्तराखंड के कई बड़े नेताओं के नाम से जेतली को छोड़ने के लिए रात भर फोन आते रहे। रात तीन बजे तक नेताओं ने जेतली को छुड़ाने का प्रयास किया। पुलिस ने बुधवार को जेतली को देहरादून की मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो मामला दो करोड़ का बताया जा रहा है, हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है। जेतली बीते साल वर्ष 2017 में बसपा से जुड़े रहे हैं। चर्चा है कि कुछ दिन पूर्व ही जेतली ने सपा का दामन थामा है। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर जेतली को गिरफ्तार किया गया है। पिछले साल पड़ा था छापा आयकर विभाग का छापावर्ष 2017 के नवंबर में अनिल जेतली के यहां आयकर विभाग का छापा पड़ा था। इसके बाद बिक्री कर विभाग का छापा पड़ा था। आयकर विभाग के छापे के बाद अनिल जेतली के करोड़ों रुपये विभाग में जमा कराए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Anil Jaitley arrested in a check bounce