DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड शुगर मिल फेडरेशन को 10 हजार का जुर्माना

उत्तराखंड शुगर मिल फेडरेशन को 10 हजार का जुर्माना

हाईकोर्ट ने उत्तराखंड को आपरेटिव शुगर मिल फेडरेशन को तगड़ा झटका दिया है। फेडरेशन की स्पेशल अपील को खारिज करने के साथ ही 10 हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया है। वहीं मृत आश्रित कोटे के तहत गदरपुर उधमसिंह नगर निवासी सरला देवी को तत्काल विभाग में नियुक्ति देने के निर्देश दिए हैं। न्यायमूर्ति राजीव शर्मा व न्यायमूर्ति आलोक सिंह की संयुक्त खंडपीठ ने मामले की सुनवाई की।

उत्तराखंड कोऑपरेटिव शुगर मिल फेडरेशन लिमिटेड उधमसिंह नगर ने हाईकोर्ट में स्पेशल अपील दायर की थी। इसमें एकलपीठ के 18 सिंतबर 2017 के आदेश को चुनौती दी गई थी। जिसमे कोर्ट ने आदेश पारित किया था कि तीन सप्ताह के भीतर याचिकाकर्ता को मृतक आश्रित के रूप में नौकरी पर रखा जाय। एकलपीठ में याची ने कहा था कि उसका पति विभाग में सीजनल वर्क के रूप में कार्यरत था। उनकी मृतक 9 जून 2014 को हो गई थी जिसके बाद विभाग ने 16 मई 2015 को नियुक्ति पत्र दे दिया लेकिन नौकरी पर नहीं रखा है। एकलपीठ ने 3 सप्ताह के भीतर जोइनिंग देने के निर्देश दिए थे। फेडरेशन ने एकलपीठ के इस आदेश के खिलाफ स्पेशल अपील दाखिल की। संयुक्त खंडपीठ ने दोनों पक्षों की सुनने के बाद फेडरेशन की अपील को खारिज कर दिया वहीं 10 हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया है। याची को ज्वाइनिंग देने के भी निर्देश दिए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Uttarakhand Sugar Mill Federation fined 10 thousand