DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मैक कारोबार के सरगना निशान को किया गिरफ्तार

स्मैक कारोबार के सरगना निशान को किया गिरफ्तार

क्षेत्र में स्मैक कारोबार का सरगना निशान सिंह पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी मिलकमाफी नानकमत्ता को पुलिस ने 24.69 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिया। सरगना की गिरफ्तारी में चम्पावत पुलिस की बड़ी भूमिका रही। निशान सिंह राज्य के पर्वतीय जिलों के अलावा यूपी में भी अपना कारोबार चलाता था। क्षेत्र में छोटे कारोबारियों को भी इसके माध्यम से स्मैक बेची जाती थी।

सीओ कमला बिष्ट ने सोमवार को पत्रकारों को बताया कि निशान सिंह के पास से 24.69 ग्राम स्मैक बरामद हुई। उन्होंने बताया कि निशान सिंह का नेटवर्क हल्द्वानी, पिथौरागढ़, चम्पावत, पीलीभीत जनपदों के विभिन्न शहरों से लेकर ग्रामीण अंचलों तक फैला हुआ था। चम्पावत पुलिस के सहयोग से पुलिस ने निशान को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। सीओ ने बताया कि निशान सिंह यूपी के पीलीभीत, बरेली व फतेहगंज से स्मैक लाकर क्षेत्र में आपूर्ति करता था। निशान सिंह ने स्मैक कारोबारियों की लम्बी सूची भी पुलिस को बताई है।

लम्बा अपराधिक इतिहास है निशान का

निशान सिंह लम्बे समय से क्षेत्र में नशे का कारोबारी रहा है। नानक सागर जलाशय के पास गिधौर क्षेत्र का मूल निवासी निशान पिछले 10 वर्षों से मिलकनजीर में रहने लगा। पहले क्षेत्र में कच्ची शराब की तस्करी करता था। धीरे-धीरे शराब का कारोबार फैलाता रहा। वर्ष 2003 से सात बार आबकारी अधिनियम में गिरफ्तार हुआ। वर्ष 2008 व 2017 में गुण्डा नियंत्रण अधिनियम में निरुद्ध रहा। वर्ष 2017 में 110 जी के तहत भी कार्रवाई हुई। सीओ के अनुसार बाद में स्मैक कारोबार से जुड़कर सरगना बन गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Smack business chief Nishan arrested