DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन तलाक पीड़िता का दर्द : सायरा बानो को टेलीग्राम से भेजा था तलाक

तीन तलाक पीड़िता का दर्द : सायरा बानो को टेलीग्राम से भेजा था तलाक

तीन तलाक के खिलाफ सबसे पहले 38 साल की सायरा बनो ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। इस रिवाज के तहत कोई भी शख्स बेहद आसान तरीके से अपनी पत्नी को तीन तलाक बोलकर उसे छोड़ सकता है। बता दें शायरा को उनके पति ने टेलीग्राम से तलाकनामा भेजा था। उनके दो बच्चे हैं, लेकिन वे एक साल से उनका मुंह देखने को तरस रही हैं। फोन पर भी बात नहीं करने दी जाती। काशीपुर के हेमपुर निवासी सायरा बानो की शादी 2002 में इलाहाबाद के प्रॉपर्टी डीलर रिजवान के साथ हुई थी। सायरा ने बताया कि ससुराल वाले फोर व्हीलर की मांग करने लगे। वे सायरा के मायके वालों से चार-पांच लाख रुपये कैश की डिमांड करने लगे। सायरा के मायके वालों की माली हालत ऐसी नहीं थी कि यह मांग पूरी कर सकें। मेरी और भी बहनें थीं। सायरा के दो बच्चे हैं। 13 साल का बेटा और 11 साल की बेटी। शायरा का आरोप है कि शादी के बाद उसे हर दिन पीटा जाता था। रिजवान हर दिन छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा करता था। अप्रैल 2015 को सायरा के ससुराली उसे मुरादाबाद रेलवे स्टेशन छोड़कर चले गए थे। सायरा के घरवाले उसे मुरादाबाद रेलवे स्टेशन से काशीपुर ले आए। सायरा ने बताया कि जब वह काशीपुर आ गई, तो मुझे लौट आने को कहा जाने लगा। अक्तूबर में रिजवान ने सायरा को टेलीग्राम के जरिए तलाकनामा भेज दिया। सायरा एक मुफ्ती के पास गई तो उन्होंने कहा कि टेलीग्राम से भेजा गया तलाक जायज है। बता दें सायरा ने निकाह हलाला और बहु विवाह को भी चैलेंज किया था। इसके तहत मुस्लिम महिलाओं को अपने पहले पति के साथ रहने के लिए दूसरे शख्स से दोबारा शादी करनी होती है। वे मुस्लिमों में बहुविवाह को भी गैर-कानूनी बनाने की मांग कर रही हैं। सायरा के मुताबिक, रिजवान से शादी के बाद उसे कई गर्भनिरोध लेने को कहा गया। इस वजह से वह काफी बीमार हो गई। रिजवान ने उसका छह बार अबॉर्शन करवाया। सायरा के बच्चे रिजवान के साथ रहे हैं। वह उन्हें देखने के लिए एक साल से तरस रही है। सायरा का कहना है कि यहां तक कि उसे बच्चों से फोन पर भी बात नहीं करने दी जाती।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Saira Banu was sent to Telegram by divorce