ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड हल्द्वानीमनोवैज्ञानिक बनना चाहती हैं रिद्धिमा चौधरी

मनोवैज्ञानिक बनना चाहती हैं रिद्धिमा चौधरी

हल्द्वानी, कार्यालय संवाददाता। सीबीएसई 12वीं कक्षा की प्रदेश सूची में तीसरे नंबर पर रही...

मनोवैज्ञानिक बनना चाहती हैं रिद्धिमा चौधरी
हिन्दुस्तान टीम,हल्द्वानीTue, 14 May 2024 12:15 PM
ऐप पर पढ़ें

हल्द्वानी, कार्यालय संवाददाता।
सीबीएसई 12वीं कक्षा की प्रदेश सूची में तीसरे नंबर पर रही आर्यमन विक्रम बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ लर्निंग हल्द्वानी की रिद्धिमा चौधरी मनोवैज्ञानिक बनना चाहती हैं। इसमें भी क्रिमिनोलॉजी में उनकी विशेष रूचि है। वह अपराध और आपराधिक व्यवहार का अध्ययन करना चाहती हैं। रिद्धिमा को 494 अंक हासिल हुए हैं।

लालडांड स्थित शांति विहार निवासी रिद्धिमा चौधरी के माता-पिता अल्मोड़ा जिले के लमगड़ा ब्लॉक में सरकारी स्कूलों में शिक्षक हैं। मां कुंजिका चौधरी प्राइमरी स्कूल ढौरा में हेड टीचर हैं, जबकि पिता संदीप चौधरी जीआईसी सत्यू में तैनात हैं। रिद्धिमा ने बताया कि पढ़ाई के दौरान वह अपनी मौसी के साथ रहीं। मम्मी-पापा के दूर होने के बावजूद मौसी ने कभी कोई कमी नहीं होने दी। ऑनलाइन गेमिंग की शौकीन रिद्धिमा का कहना है कि जिंदगी एक बार ही मिलती है इसलिए परीक्षा के दौरान भी बिना दबाव के रही और पढ़ाई की। कक्षा में पढ़ाई पर पूरा ध्यान लगाती थी, लेकिन घर पर पूरी मस्ती करती रहीं। घर में पढ़ाई के लिए कोई समय तय नहीं किया था। सिर्फ परीक्षा के दौरान 6 से 7 घंटे तक पढ़ाई की। उन्होंने बताया उनकी रूचि मनोविज्ञान में है, इसलिए वह उसकी पढ़ाई करेंगी। इसमें भी क्रिमिनोलॉजी (अपराध शास्त्र) में उनकी विशेष रूचि है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।