DA Image
30 सितम्बर, 2020|10:14|IST

अगली स्टोरी

प्रतिमाह एक दिन का वेतन कटने से भड़के चिकित्सक

default image

प्रतिमाह एक दिन का वेतन काटने से चिकित्सकों में गहरा रोष है। उन्होंने मुख्यमंत्री को पांच सूत्रीय पत्र भेजकर निर्णय को गलत बताया। कहा यह प्रक्रिया जल्द बंद होनी चाहिए।

मंगलवार को एमएस डॉ. मणि पंत ने कहा चिकित्सकों को वेतन नहीं काटा जाना चाहिए। जबकि पीजी अध्ययनरत छात्रों को पूर्ण वेतन दिया जाना चाहिए। तहसीदार, पटवारी स्तर तक के कर्मचारियों को जिलाधिकारियों द्वारा नामित कर चिकित्सालयों में भेजा जाता है। जिससे चिकित्सकों की गरिमा तथा उनके सम्मान को ठेस पहुंचती है। कर्मचारियों को इस तरह नामित करना बंद होना चाहिए। कहा जसपुर विधायक द्वारा कंटेनमेंट जोन को लेकर चिकित्सक से दूरभाष पर अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया। घटना का संज्ञान लेते हुए विधायक को अयोग्य घोषित किया जाये, अस्पताल में मौत होने पर हमेशा चिकित्सक को लापरवाह बताया जाता है। जबकि अधिकतर मामलों में मौत का कारण सुविधाओं का अभाव होता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Physicians furious with one day 39 s salary cut every month