DA Image
21 जनवरी, 2020|5:04|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुनस्यारी की आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

एक सप्ताह से सड़क बंद रहने के बाद भी अपनी पीड़ा बयां करने के लिए मुनस्यारी क्षेत्र के ग्रामीण जिला मुख्यालय पहुंचे। उन्होंने यहां अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया और शीघ्र पूरे क्षेत्र में आई आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित नहीं करने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।
गुरुवार को यहां से 120 किमी से अधिक दूर मुनस्यारी क्षेत्र के कई गांवों के लोग एनएसयूआई के ब्लॉक अध्यक्ष विक्रम सिंह दानू के नेतृत्व में जिला मुख्यालय पहुंचे। यहां ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया। कहा कि दो जुलाई की आपदा के बाद से पूरे क्षेत्र का शेष जगत से संपर्क कट गया है। लोग जिला मुख्यालय पहुंचने के लिए 40 से 50 किमी तक अतिरिक्त सफर करने को मजबूर हैं। कहा कि क्षेत्र में आपदा के कारण कई लोग बेघर हो गए हैं। कई के पास खेती योग्य भूमि भी नहीं बची है। कहा कि क्षेत्र में 6 से अधिक सड़कें बंद पड़ी हुई हैं। उन्होंने कहा कि कई संपर्क मार्गों के बंद रहने के कारण लोगों के लिए आवाजाही कठिन हो गई है। ग्रामीणों ने शीघ्र सभी मांगें पूरी नहीं करने पर एनएच पर जाम और आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Munasyari disaster demand to declare national calamity