DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राफेल पर मोदी सरकार ने निजी कंपनी को लाभ दिया : लवली

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री अरविन्दर सिंह लवली ने राफेल घोटाले को देश का सबसे बड़ा घोटाला बताया है। गुरुवार को कांग्रेस कार्यालय स्वराज आश्रम में लवली प्रेसवार्ता कर रहे थे। 
लवली ने कहा कि 12 दिसंबर 2012 को कांग्रेस की यूपीए सरकार में खुली अंतराष्ट्रीय बोली के अनुसार 126 राफेल लड़ाकू जहाजों में से प्रत्येक जहाज का मूल्य 526.10 करोड़ रुपये था, यानी 36 लड़ाकू जहाजों का मूल्य 18,940 करोड़ होना चाहिये था। लेकिन बाद में आई मोदी सरकार ने 36 राफेल लड़ाकू विमानों के लिए 60145 करोड़ रुपये का करार किया। सरकार ने इसका ऑफसेट कांट्रेक्ट एचएएल को न देकर एक निजी कंपनी को दे दिया। इसके चलते देश को 30 हजार करोड़ का चूना लगाया गया।

लवली ने कहा कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से तथ्य छिपकार न केवल गुमराह किया है, बल्कि संसद की अवमानना भी की है। सरकार जेपीसी जांच कराने से डर रही है, क्योंकि इससे सच्चाई जनता के सामने आ जाएगी। इस दौरान राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी, जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल, पूर्व विधायक हरीश चन्द्र दुर्गापाल, ब्लाक प्रमुख भोला दत्त भट्ट, सुमित ह्दयेश, हेमंत बगड़वाल, केदार पड़लिया, नीमा भट्ट, जया कर्नाटक, पुष्पा तिवारी आदि मौजूद थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Modi government gives benefits to private company on Raphael