अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रयोगशाला तकनीशियनों ने सरकार से पद निकालने की मांग रखी

सरकारी चिकित्सा केंद्रों में संविदा पर तैनात प्रयोगशाला तकनीशियनों ने राज्य सरकार से रिक्त पदों पर विज्ञप्ति निकालने की मांग की है। इसी मुद्दे को लेकर बीएमएलटी एसोसिएशन(बैचलर ऑफ मेडिकल लैब टेक्नीशियन) के पदाधिकारियों और सदस्यों ने रविवार को नगर निगम सभागार में बैठक की। प्रकाश बधानी ने बताया कि रजिस्ट्रेशन के बाद भी प्रयोगशाला तकनीशियन सालों से संविदा पर तैनात हैं। कहा कि उनकी कोई सुध नहीं ली जा रही। कविता मेहरा ने कहा कि तकनीशियन 10 से 12 हजार रुपये वेतन में काम करने को मजबूर हैं। इसी दौरान राज्य स्तर पर एक एसोसिएशन गठित की गई। जिसमें अध्यक्ष की कमान प्रकाश बधानी को सौंपी गई। इसके अलावा कविता मेहरा उपाध्यक्ष, कपिल चंद्रा सचिव, जंगदीश पांडेय कोषाध्यक्ष, चंदन सिंह उपसचिव, विनोद गिरी संगठन मंत्री और कैलाश चंद्र प्रवक्ता बनाए गए। सभी ने जल्द नियमित पद सृजित नहीं होने और उचित मानदेय नहीं मिलने पर राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है। बैठक में जितेंद्र आर्या, कंचन पंत, विकास जोशी, पूनम कनवाल, सुंदर कोरंगा, रुचिता भंडारी, बीना गुरुरानी, नरेश भट्ट, विनोद मेहता, संजय गोस्वामी, तुलसी मेहरा, पंकज थुआल, नितिन पांडे, मनोज आदि रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lab technician, haldwani, govt Laboratory technicians demanded regular posts from state govt