DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हल्द्वानी की सीमा ने यूरोप में दिखाया अपना हुनर

हल्द्वानी की सीमा ने यूरोप में दिखाया अपना हुनर

शहर की एक चित्रकार ने यूरोप को अपनी कला से परिचित कराया है। यूरोप के प्रमुख शहर और चेक गणराज्य की राजधानी प्राग में आयोजित आर्ट प्रदर्शनी में दुनिया के 31 देशों के चित्रकारों ने हल्द्वानी की सीमा बख्शी की प्रतिभा देखी। सीमा भारत से शिरकत करने वाली अकेली चित्रकार रहीं। यूनेस्को की ओर से 20 से 26 मई तक प्राग शहर में फोटो प्रदर्शनी का आयोजन किया था। इसमें हल्द्वानी की मशहूर चित्रकार सीमा बख्शी ने भारत का प्रतिनिधित्व किया। प्रदर्शनी में जापान, तुर्की, स्पेन, कनाडा, इटली, रोम, फ्रांस, यूएसए, जोर्डन समेत 31 देशों के चित्रकारों ने भाग लिया। विभिन्न देशों के लोगों को चित्रकारी के जरिये एक-दूसरे के करीब लाने की मंशा से यूनेस्को ने फोटो प्रदर्शनी का आयोजन किया था। हल्द्वानी लौटने के बाद सीमा ने बताया कि उन्होंने नृत्य करती भारतीय महिला और प्राग शहर की एक बहुमंजिला इमारत को कैनवास पर उतारा। इन्हें दुनियाभर के पेंटरों के अलावा यूनेस्को की टीम ने सराहा। यूनेस्को टीम ने उन्हें सम्मानित किया। लोगों की सराहना ने बना दिया पेंटर सीमा बख्शी पेशे से विज्ञान शिक्षक हैं। अक्तूबर 2015 में उन्होंने एक पेंटिंग बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट की, जिसे लोगों ने काफी सराहा। लोगों की प्रशंसा ने सीमा को पेंटिंग का शौक बढ़ा। पिछले साल मई में सीमा ने हल्द्वानी में खुद की तैयार फोटो की प्रदर्शनी लगाई। अब तक दौ सौ से अधिक पेंटिंग बना चुकी सीमा के उकेरे चित्र प्रकृति, पशु-पक्षी, सौंदर्य आदि के इर्द-गिर्द होते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Haldwani's Cema showed her skill in Europe