अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान फेसबुक लाइव पर घनश्याम भट्ट ने लगाया होली पर हास्य का तड़का

हिन्दुस्तान फेसबुक लाइव पर घनश्याम भट्ट ने लगाया होली पर हास्य का तड़का

होली के मौके पर हिन्दुस्तान के फेसबुक लाइव पर हल्द्वानी से जुड़े हास्य कलाकार घनश्याम भट्ट उर्फ नाना पाटेकर। रंगमंच पर जुड़े घनश्याम भट्ट कुमाऊंनी होली की विशेष जानकारी रखते हैं। कुमाऊंनी होली के अनेकों पारंपरिक राग व गीत उन्होंने लाइव कार्यक्रम के जरिए प्रस्तुत किए।

कुमाऊं में होली गायन की शुरूआत चीर बांधने से होती है। घनश्याम भट्ट ने भी पारंपरिक रूप से चीर बांधने के गीतों से होली कार्यक्रम की शुरूआत की। उन्होंने कैले बांधी चीर, हो रघुनन्दन राजा, गणपति बांधनी चीर, हो रघुनन्दन राजा, ब्रह्मा विष्णु बाधनी चीर, हो रघुनन्दन राजा, शिव शंकर बांधनी चीर, हो रघुनन्दन राजा.... की प्रस्तुति दी। इसके बाद तो रंगों के साथ होली की मस्ती में कुछ पल गीतकार करन उप्रेती ने भी साझा किए। उन्होंने अपनी कविता.. होली में नेताजी पर कुछ ऐसी चढ़ गई भंग, झूमे पड़ोसन संग और खूब लगाया रंग। अरे खूब लगाया रंग भैया, चूरन कर दी धानी, दीवारें थी रंग दी सारी आंगन पानी पानी, पर नेताणी को नेजाजी का रंग पसंद न आया। नेताजी को बेलन से उसने खूब बजाया। करीब एक घंटे तक घनश्याम भट्ट ने होली के कई गीतों को मस्ती के साथ गाते हुए खूब मनोरंजन किया। उन्होंने उत्तराखंड के रंगकर्मी स्व.गिरीश तिवारी गिर्दा की होली से भी लोगों को अवगत कराया। उन्होंने होली के बिगड़ते स्वरुप से चिंता जाहिर करते हुए लोगों के बेहतर होली से जुड़ने के साथ ही बेहतर इंसान बनने का भी आह्वान किया। कुल मिलाकर हास्य, शासत्रीय, राग, रस व रंगों से भरी होली गाकर उन्होंने हिन्दुस्तान फेसबुक लाइव के दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ghanshyam Bhatt launches Holi with humor on Hindustan Facebook Live