DA Image
26 नवंबर, 2020|1:51|IST

अगली स्टोरी

हल्द्वानी में मानदेय बढ़ाने के लिए भोजनमाताओं का प्रदर्शन

default image

प्रगतिशील भोजन माता संगठन ने सात सूत्री मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। सरकार से सभी मांगों पर ठोस कार्रवाई की मांग की। जल्द कार्रवाई नहीं करने पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी। गुरुवार बुद्ध पार्क में सोशल डिस्टेंस के साथ भोजन माताओं ने प्रदर्शन किया। संगठन महामंत्री रजनी जोशी ने कहा कि भोजन माताएं 18-19 साल से विद्यालयों में खाना बनाना, साफ सफाई और स्कूल में बागवानी का काम कर रही है। उन्हें मानदेय के नाम पर मात्र 2 हजार रुपया मिल रहा है। मामले में 1 जनवरी को शिक्षा निदेशक ने भोजन माताओं का मानदेय 5 हजार करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा, लेकिन आज तक उस पर कार्रवाई नहीं हुई है। पुष्पा कुड़ई और चम्पा गिनवाल ने कहा कि सरकार हमारी समस्याओं को गंभीरता से नहीं ले रही है। हेमा तिवारी ने कहा कि भोजनमाताओं से साग सब्जी लगाने को भी कहा जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ मिड डे मील प्रभारी सब्जी लगाने के नाम पर भोजन माताओं का उत्पीड़न कर रहे हैं। कमला ने भोजन माताओं का न्यूनतम वेतन 18 हजार रुपये करने की मांग की। श्रम सचिव देहरादून को ज्ञापन भेज कर मामले में ठोस कार्रवाई की मांग की। यहां धना देवी, अनीता, पार्वती, मुन्नी, नंदी, सीमा, विमला, ममता बिरूखानी, दीपा उप्रेती, तारा देवी, कुसुम देवी आदि रहे।

ये हैं मांगें

भोजन माताओं को नियमित करने, क्वारंटाइन सेंटरों में काम करने वाली भोजन माताओं को अतिरिक्त सहयोग राशि देने, उनका बीमा करने, ईएसआई लाभ, पीएफ, पेंशन, प्रसूति अवकाश देने की मांग की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Food demonstrators to increase honorarium in Haldwani