DA Image
24 जनवरी, 2020|7:58|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला प्रवक्ता से परेशान प्रधानाचार्य ने मांगा तबादला

सोशल मीडिया में विभागीय गोपनीय पत्र वायरल होना अब आम बात हो गई है। गुरुवार को भी इसी तरह का एक मामला सामने आया। गृह सचिव को भेजे गए एक पत्र में हल्द्वानी के सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्य ने अपने ही स्कूल की महिला प्रवक्ता पर एससी-एसटी एक्ट के झूठे केस में फंसाने का आरोप लगाया है। पत्र में तबादले की मांग की गई है। बताया गया है कि पूर्व में शिक्षा महानिदेशक से भी स्थानांतरण का अनुरोध किया जा चुका है।
सोशल मीडिया में वायरल पत्र के अनुसार राजकीय इंटर कॉलेज वनभूलपुरा, हल्द्वानी के प्रधानाचार्य एके शुक्ला ने प्रवक्ता पर झूठे मुकदमे में फंसाकर जेल भिजवाने के प्रयास करने का आरोप लगाया। बताया कि मामले में शिकायत के बाद पिछले साल बीईओ कोटाबाग की अध्यक्षता में एक समिति को मामले की जांच सौंपी गई थी, जिसकी जांच 23-24 मई को पूरी हो चुकी है, लेकिन अब तक इसकी रिपोर्ट उन्हें नहीं मिली है। गृह सचिव से गुहार लगाए हुये प्रधानाचार्य ने कहा है कि विद्यालय में कार्यरत अनुसूचित जाति वर्ग की दो महिलाओं, दो पुरुष अध्यापकों और प्रयोगशाला सहायक, स्वच्छक से भी मामले की पूछताछ की जानी चाहिए। साथ ही एक्ट के तहत यदि उन पर मुकदमा होता है तो उनका पक्ष भी सुना जाना चाहिए। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bothered from Ladies lecturer Principal demand for transfer