DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असम राइफल के सिपाही ने फांसी लगाकर खुदकुशी की

छुट्टी में घर आए असम राइफल्स के जवान ने अज्ञात कारणों से शनिवार रात संदिग्ध हालात में घर के अंदर पंखे से फंदा लगाकर जान ने दी। सूचना पर आई पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस के अनुसार गौड़धड़ा बिठौरिया निवासी जंग बहादुर पाल (48) पुत्र मोहन सिंह पाल असोम में तैनात थे। वह मूल रूप से पिथौरागढ़ के बगड़ी हाट के रहने वाले थे और 14 मई को छुट्टी पर आए थे। शनिवार शाम वह खाना खाने के बाद सो गए थे। रविवार सुबह काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला तो पत्नी गीता पाल चाय लेकर कमरे की ओर गई। दरवाजा खटखटाने के बावजूद कोई जवाब नहीं मिला तो दरवाजे की कुंडी तोड़ी गई। अंदर देखने पर जंग बहादुर पंखे से लटका मिला। परिजनों ने आनन-फानन में पुलिस बुलाई। एसओ नंदन रावत ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। फांसी क्यों लगाई, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है।

अंतिम संस्कार आज

सिपाही जंगबहादुर के बेटे सागर पाल नेवी में मुम्बई में तैनात हैं। सूचना मिलते ही वह घर के लिए चल चुके हैं। उनके पहुंचने के बाद सोमवार को अंतिम संस्कार किया जाएगा। सिपाही की पत्नी गीता पाल, पुत्री नेहा पाल समेत परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Assam rifle soldier sued by hanging