अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आशाओं के मानदेय दोगुना करने की बात सफेद झूठ

बुधवार को जारी बयान में यूनियन के प्रदेश महामंत्री कैलाश पांडेय ने कहा कि यूनियन लंबे समय से मासिक वेतन देने की मांग कर रही है। लेकिन प्रधानमंत्री ने अपनी घोषणा से सिर्फ झुनझुना पकड़ाने का काम किया है। कहा कि एक ओर सरकार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के बजट में कटौती कर रही है, दूसरी ओर मानदेय की भी बात कही जा रही है। कहा कि जब मिशन में बजट ही नहीं आयेगा तो मानदेय कैसे मिलेगा। आरोप लगाया कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर वोट हासिल करना ही घोषणा का मकसद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:asha worker salary double statement is fake