ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंड हल्द्वानीसातताल के गार्डन से झाड़ियों के कटान पर पक्षी प्रेमियों में नाराजगी

सातताल के गार्डन से झाड़ियों के कटान पर पक्षी प्रेमियों में नाराजगी

सातताल के गार्डन से झाड़ियों के कटान पर पक्षी प्रेमियों में नाराजगी है। पक्षी प्रेमी गौरी राणा, नीर बनकोटी, हरी लामा, प्रभु हजारा, नितेश सती और आशीष...

सातताल के गार्डन से झाड़ियों के कटान पर पक्षी प्रेमियों में नाराजगी
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,हल्द्वानीWed, 16 Jun 2021 07:20 PM
ऐप पर पढ़ें

भीमताल। सातताल के गार्डन से झाड़ियों के कटान पर पक्षी प्रेमियों में नाराजगी है। पक्षी प्रेमी गौरी राणा, नीर बनकोटी, हरी लामा, प्रभु हजारा, नितेश सती और आशीष बिष्ट ने बताया कि सातताल बर्ड वाचिंग स्थल के रूप में देशभर में मशहूर है। यहां नीबू व नाशपाती के गार्डन में झाड़ीनुमा पेड़ों आदि का कटान अत्यंत तेजी से चल रहा है। यहां पर हिमालयन रूबिथरोट, साइबेरियन रूबिथरोट, लेमन रंप्ड वैबलर, फायर ब्रेस्टेड फ्लोवरपेकर, स्मॉल निलतावा, डार्क थ्रोटेड थ्रुश, रेन बेबलर, हिमालयन ब्लूटेल, ब्लैक चिन्नेद बैबलर आदि पक्षी इन झाड़ियों में ही प्रवास करती हैं। इस क्षेत्र में बहुत से तितलियों, फ्लाइंग स्क्वेरल, सरीसृप आदि का भी प्रवास स्थल है। विकास और पर्यटन की इस अंधी दौड़ में नैनीताल जिले की झीलों को वैसे ही बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है। झीलों और इसके आसपास के क्षेत्रों के अस्तित्व को बचाना बहुत जरूरी है। मशहूर कलाकार रणदीप हुडा ने भी मामले में ट्वीट किया है।

epaper