DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरस मेले में 11 राज्यों के स्टॉल रहेंगे आकर्षण का केन्द्र

जिलाधिकारी वीके सुमन ने कहा कि 14 से 26 जनवरी तक हल्द्वानी के एमबी इंटर कॉलेज मैदान में लगने वाले सरस मेले में 11 राज्यों के स्वयं सहायता समूहों के लगने वाले स्टॉल लोगों के आकर्षण का केन्द्र रहेंगे। मेले में लगने वाले फूड स्टॉलों में लोग कुमाऊंनी व्यंजनों का स्वाद ले सकेंगे।

सरस मेले की तैयारियों को लेकर शनिवार को नगर निगम सभागार में पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीएम वीके सुमन और सीडीओ विनीत कुमार ने बताया कि सरस मेले का उद्देश्य स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों, शिल्पों और कलाकृतियों के लिए बाजार उपलब्ध कराना है। सीडीओ विनीत कुमार ने बताया कि मेले का संचालन सुबह 10 से रात्रि 8 बजे तक किया जाएगा। सरस मेले में आन्ध्र प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, पंजाब, पश्चिम बंगाल, उत्तरप्रदेश, उड़ीसा, कर्नाटक एवं हरियाणा समेत 11 राज्यों के 32 स्वयं सहायता समूहों के स्टॉल आकर्षण का केन्द्र रहेंगे। मेले में उत्तराखण्ड के 53 और नैनीताल के 50 स्वयं सहायता समूहों के स्टॉल भी लगेंगे। साथ ही उत्तराखंड के हस्तशिल्पियों के लिए 25 स्टॉल उद्योग निदेशालय, देहरादून की ओर से लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मेले में 20 फूड स्टॉल भी लगाए जा रहे हैं, जिनमें विभिन्न प्रान्तों के प्रसिद्ध और उत्तराखंड के स्थानीय व्यंजनों का स्वाद लिया जा सकेगा। मेले को मनोरंजक, आकर्षक और रुचिकर बनाने के लिए प्रत्येक रोज दोपहर में चित्रकला, मेंहदी, गायन, नृत्य और ऐपण आदि प्रतियोगिताएं होंगी। मेले में 4 से 8 बजे तक सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग, शिक्षा विभाग के निर्देशन में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम किये जाएंगे। मेले के दौरान 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर विशेष नुक्कड़ नाटक, 25 जनवरी को ‘राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर मतदाता जागरूकता कार्यक्रम तथा 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर झण्डारोहण और योगा कार्यक्रम किया जाएगा। पत्रकार वार्ता के दौरान परियोजना निदेशक डीआरडीए बालकृष्ण, उप निदेशक सूचना योगेश मिश्रा, अपर परियोजना निदेशक संगीता आर्या आदि रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:11 states will be the center of attraction at the Saras Fair