Twins brother and sister topper in Uttarakhand board result 2018 - उत्तराखंड बोर्ड रिजल्ट में जुड़वां भाई-बहन का जलवा, दोनों ने 12वीं की टॉपर लिस्ट में बनाई जगह DA Image
13 नबम्बर, 2019|8:52|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड बोर्ड रिजल्ट में जुड़वां भाई-बहन का जलवा, दोनों ने 12वीं की टॉपर लिस्ट में बनाई जगह

उत्तराखंड बोर्ड के रिजल्ट में देहरादून जिले के जुड़वां भाई-बहन का जलवा देखने को मिला है। दोनों ने 12वीं की मेरिट लिस्ट में जगह बनाई है। हालांकि भाई के मुकाबले बहन ने मेरिट में ऊपर जगह पाई है। दोनों जुड़वां भाई-बहनों की कामयाबी पर स्कूल और घर में खुशी का माहौल है। इन जुड़वां बच्चों के पिता पोस्टमैन की नौकरी करते हैं। 

महर्षि अरविंद घोष इंटर कालेज डाकपत्थर (देहरादून) में 12वीं में पढ़ने वाली शिवांगी चौधरी ने उत्तराखंड बोर्ड में 11वीं रैंक हासिल की है। शिवांगी ने 94.8 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। जबकि शिवांगी के भाई शिवम चौधरी ने बोर्ड की मेरिट लिस्ट में 24वीं रैंक हासिल की है। शिवम ने 92.20 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। 
रिजल्ट जानने के बाद जुड़वां भाई-बहन की खुशी का ठिकाना नहीं है। 

CBSE Result : ऑल इंडिया टॉप फाइव होनहारों में उत्तराखंड की तीन बेटियां, हरिद्वार की तनुजा स्टेट टॉपर

‘लाइव हिन्दुस्तान’ से बातचीत में दोनों ने बताया कि उनके प्रत्येक कार्य का एक शेड्यूल होता है। दोनों ही पांच घंटे पढ़ाई करते हैं। जबकि परीक्षा के दौरान दोनों ने 12 घंटे प्रतिदिन पढ़ाई की है। दोनों का कहना है कि मोबाइल का उपयोग इंटरनेट से पढ़ाई के लिए करते हैं। खासकर गणित के जो सवाल कठिन लगते हैं उसे मोबाइल में इंटरनेट की मदद से हल करते थे। इसके अलावा मोबाइल से शिक्षकों से संपर्क उनसे भी सवालों के जवाब के साथ-साथ उनके हल करने की प्रक्रिया के बारे में जानते थे। पढ़ाई के साथ-साथ दोनों भाई-बहन को टीवी देखने का भी शौक है। 

 रोजाना 24 किमी साइकिल चलाकर पढ़ने जाती थी इंटर टॉपर दिव्यांशी, जानिए सफलता का मंत्र- VIDEO

शिवांगी चौधरी ने बताया कि उन्हें नोबेल पढ़ना भी बहुत अच्छा लगता है। मोबाइल पर ही वह कई नोबेल पढ़ती हैं। हैरीपोर्टर की उन्होंने सभी सीरीज पढ़ ली हैं। शिवांगी चौधरी का कहना है कि आईएएस बनना उसका लक्ष्य है। इसके लिए वह अभी से तैयारियां कर रही हैं। बताया कि आर्थिक तंगी उनकी पढ़ाई के आड़े नहीं आयी है। मां और पिता के अलावा शिक्षकों से हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा मिली है। वहीं शिवांगी के भाई शिवम चौधरी आईटी इंजीनियर बनना चाहते हैं। शिवांगी के पिता गिरीश चौधरी हरिपुर कालसी में पोस्टमैन का काम करते हैं। जबकि मां गृहणी हैं।

UK Board Result: पढ़ाई के आगे खाना भी भूल जाती थीं 10वीं की टॉपर काजल, जानें सफलता के राज

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Twins brother and sister topper in Uttarakhand board result 2018