DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड में जड़ी-बूटी खेती की ट्रेनिंग देगा पतजंलि

जड़ी-बूटी की खेती के इच्छुक युवक-महिला मंगल दल, आंगनबाड़ी और ग्राम पंचायतों को पतजंलि योगपीठ ट्रेनिंग भी देगा और उनकी उपज को खरीदेगा भी। शुक्रवार को समेकित बाल विकास सेवाएं (आईसीडीएस) मुख्यालय में पौधरोपण कार्यक्रम में पतजंलि योग पीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने यह घोषणा की। कहा कि राज्य को हर्बल स्टेट बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए पीठ हर मुमकिन सहयोग करेगा। जो भी ग्राम पंचायत, आंगनवाड़ी, महिला और युवा मंगल दल जड़ी-बूटी, बहुपयोगी वनस्पति की खेती करना चाहते हैं तो उनकी भी मदद की जाएगी। पतजंलि पीठ उनको जरूरी ट्रेनिंग देगा। साथ ही उनकी उपज को उचित दाम पर खरीदा भी जाएगा। महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्य ने कहा कि आज के दिन राज्य में 19 हजार 650 आंगनवाड़ी कार्यकत्री प्रदेश स्तर पर दो लाख 16 हजार 150 पौधों का एक ही दिन में रोपण कर रही हैं। ऐसा प्रदेश में पहली बार हुआ है। आज रोपे गए पौधों में छायादार, पशु चारा प्रजाति, फलदार, भूमि संरक्षण और जल सरंक्षण में सहायक प्रजाति के पौधे हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी विचार रखे। छह महीने बाद होगी रोपे पौँधों की जांच देहरादून। हर आंगनबाड़ी कर्मचारी को 11-11 पौधे रोपने का टारगेट दिया गया है। इन पौधों को रोपने के बाद वो इसकी जानकारी वाट्सअप और ईमेल के जरिए मुख्यालय को देंगी। छह महीने बाद इन पौधों की जांच की जाएगी। जो आंगनबाड़ी कर्मचारी रोपे हुए पौधों को संरक्षित रखने में कामयाब रहेगी, उसे सम्मानित किया जाएगा। रहे मौजूद:सहसपुर विधायक सहदेव सिंह पुंडीर,अपर सचिव विम्मी सचदेवा रामन, जूना अखाड़ा के राष्ट्रीय सचिव महंत देवगिरि, टपकेश्वर महादेव के महंत कृष्णगिरि महाराज, भाजपा महामंत्री महामंत्री भाजपा संजय कुमार,महिला मोर्चा अध्यक्ष भाजपा नीलम सहगल, उप निदेशक-आईसीडीएस सुजाता सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी एसके सिंह आदि।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tree plantation program