अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोद में बच्चा लेकर यूं हाथ की सफाई करती थीं तीन महिलाएं

शक्ल-सूरत से भोली-भाली दिखने वाली तीन महिलाएं इतने शातिर तरीके से हाथ की सफाई करती थीं कि जानकर आपको यकीन नहीं होगा। रुड़की में एक फैक्ट्री कर्मचारी के 20 हजार रुपये उड़ाने वाली इन महिलाओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी महिलाओं से पूछताछ कर रही है। 

रुड़की के सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के सती मोहल्ले में इरशाद की सर्वे ड्राइंग इंस्टूमेंट बनाने की फैक्ट्री है। इरशाद की फैक्ट्री में उत्तर प्रदेश के नगीना निवासी कलवा कारीगर है। इरशाद ने सोमवार दोपहर कारीगर को 20 हजार का चेक देकर बीटीगंज स्थित पीएनबी में कैश लाने भेजा था। चेक कैश कराने के बाद कारीगर ने यह रकम अपनी जैकेट की अगली जेब में रख ली। 

इसी बीच बैंक में अपने बच्चों के साथ आईं तीन महिलाओं ने कलवा को घेर लिया। हल्की धक्का-मुक्की कर पलक झपकते ही महिलाओं ने फैक्ट्री कर्मचारी की जेब से 20 हजार रुपए उड़ा लिए। इसके बाद महिलाएं बैंक से बाहर निकलते ही ई-रिक्शा में बैठकर गायब हो गईं। कुछ देर बाद जब कर्मचारी का ध्यान जेब पर गया तो वह दंग रह गया। जेब से पैसे गायब थे। उसने शोर मचाया, लेकिन तब तक महिलाएं वहां से गायब हो चुकी थीं। घटना के बाद कारीगर ने शहर में इन महिलाओं की तलाश शुरू की। सिविल लाइंस में तीन महिलाएं फिर से घूमती हुई दिखाई दीं। उसने सिविल लाइंस पुलिस को बुलाकर तीनों महिलाओं को पकड़वा लिया।

इस मामले में फैक्ट्री के मालिक इरशाद की ओर से पुलिस को तहरीर दी गई। इंस्पेक्टर गंगनहर कमल कुमार लुंठी ने बताया कि आरोपी प्रीति, गुंजन और रिंकी निवासी राजगढ़ मध्य प्रदेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। तीनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। प्रीति और रिंकी बहनें हैं। उनके साथ एक बच्चा भी है, जिसकी आड़ लेकर तीनों टप्पेबाजी की घटनाओं को अंजाम देती थी। महिलाएं और साथ में बच्चो होने के चलते लोग उन पर शक नहीं करते थे। इसी कारण तीनों बच निकलती थीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:three women arrested in roorkee for thefting