The gentleman cadet Audila Ahmad of Tajikistan in IMA Dehradun narrated the Hindi song - VIDEO: देखिए विदेशी सैन्य अफसर का भारत प्रेम और सुनिए उनकी जुबान से हिन्दी गाना DA Image
18 फरवरी, 2020|3:21|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: देखिए विदेशी सैन्य अफसर का भारत प्रेम और सुनिए उनकी जुबान से हिन्दी गाना

औदिला अहमद वैसे तो रहने वाले ताजिकिस्तान (तजाकिस्तान) के हैं, लेकिन उनकी हिन्दी सुनकर आपको लगेगा कि वो ठेठ भारतीय हैं। भारत के लोगों के लिए उनका प्यार भी देखते हो बना है।

देहरादून में भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) की पासिंग आउट परेड के जरिए औदिला भी अपनी देश की सेना में सैन्य अफसर बन गए हैं। उन्होंने पीओपी के बाद बातचीत के दौरान हिन्दी गाना गाकर दिल जीत लिया। औदिला ने बताया कि वह भारत में पिछले चार साल से हैं। 2013 में वह यहां आए थे। एनडीए पुणे में तीन साल की ट्रेनिंग ली। वहां से ट्रेनिंग पूरी होने के बाद एक साल से देहरादून में हैं। अब यहां भी सफलतापूर्वक ट्रेनिंग पूरी कर ली है। कहा कि उन्होंने इन चार सालों में बहुत अच्छे दोस्त बने, उन्हें वह हमेशा याद रखेंगे। वह उनसे मिलने भारत आते रहेंगे। उन्होंने कहा कि उनके देश में सेना में आने के इच्छुक युवाओं का एग्जाम होता है। यह एग्जाम पास करने के बाद उन्हें ट्रेनिंग के लिए इंडिया भेजा गया। उनके साथ सात और ताजिकिस्तानी युवा सैन्य अफसर बने हैं। हम सभी बहुत गर्व महसूस कर रहे हैं। 

औदिला ने चार साल भारत में रहते हुए सीखी हिन्दी

शानदार हिन्दी को लेकर पूछे सवाल में औदिला ने बताया कि उन्होंने पिछले चार सालों में भारत में रहकर ही हिन्दी सीखी है। इससे पहले उन्हें बिल्कुल हिन्दी नहीं आती थी। इसमें उनके भारतीय दोस्तों ने बहुत मदद की। अनुरोध करने पर औदिल अहमद ने हिन्दी का एक गाना भी गुनगुनाया। उन्होंने ‘जांबाज’ फिल्म का प्रसिद्ध गीत ‘हर किसी को नहीं मिलता यहां प्यार जिंदगी में’ सुनाया। उनका कहना था कि इंडिया में उन्हें बहुत प्यार मिला, यहां बिताए पल वह कभी नहीं भुलेंगे। बता दें कि ताजिकिस्तान मध्य एशिया मे स्थित एक देश है। यह पहले सोवियत संघ का हिस्सा था। विघटन के बाद सन्  1991 में एक स्वतंत्र देश बना। ताजिकिस्तान की राजधानी दुशानबे शहर है। यहां की भाषा को ताजिकी कहा जाता है, जो फारसी भाषा का एक रूप माना जाता है। 

तजाकिस्तान की सिंगर का हिन्दी गीत हो चुका है वायरल 

तजाकिस्तान की खूबसूरत सिंगर नोजिया कोरोमातुल्लो भी हिन्दी गीत गाकर लोगों का दिल जीत चुकी हैं। पिछले दिनों उनका ‘जब तक है जान जाने जहां मैं नाचूंगी’ गीत सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था। वैसे तो उनके देश में ताजिकी पार्शियन भाषा है, लेकिन वह हिंदी गानों की दीवानी हैं। तजाकिस्तान में वह काफी पॉपुलर सिंगर हैं। उनका वायरल वीडियो भारतवासियों का दिल जीत चुका है। नोजिया कथक नृत्य भी करती हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The gentleman cadet Audila Ahmad of Tajikistan in IMA Dehradun narrated the Hindi song