DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › देहरादून › आरटीओ कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार से लोग रहे परेशान
देहरादून

आरटीओ कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार से लोग रहे परेशान

हिन्दुस्तान टीम,देहरादूनPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 05:20 PM
आरटीओ कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार से लोग रहे परेशान

परिवहन विभाग के मिनिस्टीरियल कर्मचारियों की हड़ताल के चलते आरटीओ में कामकाज ठप रहा। काम के लिए लोग दिनभर दफ्तर परिसर में भटकते रहे और कई लोगों को बिना काम कराए ही लौटना पड़ा।

बुधवार को आरटीओ के मिनिस्टीरियल कर्मचारी कार्यालय परिसर में धरने पर बैठे। उन्होंने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने कहा कि वह लंबे समय से पदोन्नति की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार कोई सुनवाई नहीं कर रही है। कर्मचारियों ने गुरुवार को भी कार्य बहिष्कार जारी रखने का ऐलान किया है। साथ ही कहा है कि उनकी पदोन्नति की एक मांग नहीं मानी गई तो वह आगे की रणनीति तय करेंगे। उत्तराखंड मिनिस्टीरियल फेडरेशन के जिलाध्यक्ष पंचम सिंह बिष्ट और जिला महासचिव सुभाष रतूड़ी ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर कर्मचारियों के आंदोलन को समर्थन दिया। धरने पर जिलाध्यक्ष बृजमोहन, प्रदेश उपाध्यक्ष संजीव मिश्रा, कोषाध्यक्ष दौलत पांडे, संगठन मंत्री गढ़वाल विनोद चमोली, कृष्ण किशोर, मुकुल ममगाईं, अनूप नेगी, मुकुल कनौजिया, प्रमोद मिश्रा, सरिता बहुगुणा, प्रीति, देवेंद्र रावत, देवेंद्र मनवाल बैठे रहे।

गेट से ही बैरंग लौटे लोग

कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार से ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट, फिटनेस और चालान से जुड़े काम नहीं हुए। आरटीओ पहुंचे लोगों को हड़ताल का पता चला तो वह गेट से ही बैरंग लौट गए। डोईवाला से आए विनोद नौटियाल ने बताया कि ड्राइविंग लाइसेंस में पता बदलवाने आए थे, लेकिन काम नहीं हुआ। प्रेमनगर के मनोज यादव को आरसी ट्रांसफर करवानी थी। वह दस बजे दफ्तर पहुंच गए थे। दोपहर 12 बजे तक यहां भटकते रहे पर काम नहीं हुआ।

संबंधित खबरें