DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाहरी अधिकारियों का पंचायत कर्मियों ने किया विरोध

प्रदेश में कार्यरत जिला पंचायत कर्मचारी बाहरी विभागों के अधिकारियों को अब बर्दाश्त नहीं करेंगे। कर्मचारियों का कहना है कि उनके विभाग में कई ऐसे अधिकारी है जो विभागीय काम बेहतर ढंग से देख सकते हैं। शुक्रवार को टिहरी में आयोजित प्रदेश स्तरीय जिला पंचायत कर्मचारियों की बैठक में यह मुद्दा उठाया गया। बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश अध्यक्ष हरीश चंद्र पांडे ने कहा कि अब समय आ गया है कि सरकार जिला पंचायत कर्मचारियों को राज्य कर्मचारी का दर्जा प्रदान करे। उन्होंने कहा कि उनके कर्मचारियों को सातवें वेतनमान की सुविधा से भी वंचित रखा गया है। बैठक में कर्मचारियों ने मांग करते हुए कहा कि उनका चिकित्सा भत्ता बढ़ाया जाए। जीवन बीमा पालिशी का पुन निर्धारण किया जाए। कर्मचारियों को एसीपी का लाभ दिया जाए। विभागीय ढांचे को सुदृढ़ किया जाए। साथ ही मस्ट्रोल से किए जा रहे काम पर रोक लगाने की भी मांग की गई। बैठक में प्रदेश महासचिव रमेश चंद्र नेगी, वीरेंद्र सिंह गुसाई, चंद्रपाल सिंह बिष्ट, अर्जुन सिंह चौहान, हरिमोहन सिंह, पान सिंह बिष्ट, मंगत राम, गिरीश चंद्र आर्य सहित विभिन्न जिलों के कर्मचारियों ने भाग लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Panchyet employee oppsed outsider officers