DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  देहरादून  ›  कालानियों के गेट तोड़ने पहुंची नगर निगम की टीम, बवाल
देहरादून

कालानियों के गेट तोड़ने पहुंची नगर निगम की टीम, बवाल

हिन्दुस्तान टीम,देहरादूनPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 08:10 PM

कालानियों के गेट तोड़ने पहुंची नगर निगम की टीम, बवाल

फोटो -

- कार्रवाई करने गई टीम ने एक गेट और लगाए गए गाटर को किया ध्वस्त

- लोगों के कहने पर दूसरे गेट को हटाने के लिए तीन दिन की दी मोहलत

देहरादून। कार्यालय संवाददाता

नगर निगम की टीम गुरुवार को दशेमेशपुरी, नेहरू विहार कालोनी में एंट्री गेट तोड़ने के लिए पहुंची। इस दौरान क्षेत्र के कुछ लोगों ने यह कहते हुए विरोध किया कि सुरक्षा के लिहाज से गेट बनाए गए हैं और सिक्योरिटी एजेंसी से यहां गार्ड की तैनाती भी की गई है। लेकिन निगम की टीम ने बिना अनुमति गेट बनाने का हवाला देते हुए एक गेट को तोड़ दिया। जबकि लोगों के कहने पर दूसरे गेट को ध्वस्त करने के लिए तीन दिन की मोहलत दी गई।

दशमेशपुरी और नेहरू विहार के लोगों ने बताया कि उन्होंने सुरक्षा के लिहाज से कालोनियों के बाहर गेटों का निर्माण करवाया था। इसके अलावा गाटर लगवाए गए थे। लेकिन इसके बाद किसी ने निगम को अवैध रूप से गेट बनाने और गाटर लगाने को लेकर शिकायत की। इसके बाद गुरुवार को निगम की टीम मौके पर कार्रवाई करने के लिए पहुंची। दोनों पक्षों में काफी देर तक कार्रवाई को लेकर बहस हुई। इसके बाद पुलिस के जवानों की मौजूदगी में एक गेट को ध्वस्त कर दिया गया। जबकि दूसरे गेट को तोड़ने के लिए लोगों को तीन दिन की मोहलत दी गई है। दशमेशपुरी से अविनेश त्यागी, दीपेंद्र वालिया, निशांत अग्रवाल, वाईएन अग्रवाल, नीरज सिंह, पीएल दत्ता, वीके जैन, सुमित जैन, गंभीर और नेहरू विहार से मनोज बहुखंडी, माणिक नरूला, सुरेंद्र कुमार, पीआर भट्ट, आरसी भारद्वाज आदि मौजूद थे। कर एवं राजस्व अधीक्षक (भूमि) विनय प्रताप सिंह ने बताया कि नगर निगम के स्तर से नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

-----

संबंधित खबरें