DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसीसी सेरेमनी में 64 कैडेट को मिली जेएनयू की डिग्री

आईएमए में आर्मी कैडेट कॉलेज(एसीसी)की ग्रेजुएशन सेरेमनी में देशभर के 64 कैडेट को डिग्रियां देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान जयपुर के कैप्टन कृष्ण कुमार यादव चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ गोल्ड मेडल से नवाजा गया। इन सभी को जेएनयू की डिग्रियां दी गई। भारतीय सैन्य अकादमी(आईएमए) के चेटवुड हॉल में शुक्रवार को आर्मी कैडेट कॉलेज की 109वीं ग्रेजुएशन सेरेमनी का आयोजन हुआ। इस मौके पर कॉलेज में पढ़ने वाले 32 कैडेट मानविकीय और 32 कैडेट साइंस स्ट्रीम से ग्रेजुएट हुए हैं। सेरेमनी में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए आईएमए के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके उपाध्याय ने सभी 64 कैडेट को उपाधि देते हुए सम्मानित किया। उन्होंने चैंपियन कंपनी नबूरा को कमांडेंट के बैनर के साथ सम्मानित किया। खेल, शैक्षणिक, शिविर, वाद-विवाद और आंतरिक गतिविधियों में की अलग-अलग प्रतियोगिताओं में कंपनी ने उत्कृष्ट प्रदर्शन की सराना की है। कहा कि कॉलेज में जिस जिम्मेदारी के साथ पढ़ाई में बेहतर प्रदर्शन किया है, उसी तरह ट्रेनिंग और तैनाती मिलने के बाद भी कैडेट सेना में सहयोग देंगे। उन्होंने कहा कि जीवन में ऐसे कार्य करें जो आपकी पहचान की छाप बन जाए। देश के सम्मान और सुरक्षा उनके कंधों पर है। इसका हर वक्त हर दिन ख्याल रखें। लेफ्टिनेंट जनरल उपाध्याय ने सभी कैडेट को शुभकामनाएं देते हुए मान-सम्मान बनाए रखने की अपील की है। इससे पहले कॉलेज के प्रिसिंपल नवीन कुमार ने पढ़ाई से लेकर रिजल्ट तक का ब्यौरा रखा। उन्होंने कई कैडेट के अच्छे कार्य भी दीक्षांत समारोह में रखे। इस मौके पर जयपुर(राजस्थान) कैप्टन कृष्ण कुमार यादव को सीओएएस गोल्ड और फर्स्ट इन सविर्स के लिए मेडल से सम्मानित किए गए। अब एक साल प्रशिक्षण लेंगे कैडेट ग्रेजुएशन सेरेमनी में डिग्री मिलने के बाद कैडेट आईएमए में एक साल तक प्री-कमीशनिंग ट्रेनिंग लेंगे। इसके बाद अगले साल पासिंग आउट परेड में सभी पास आउट हो जाएंगे। इसके बाद सभी सैन्य अफसरों को उनकी कंपनियों में तैनाती मिलेगी। सेना के तीनों विंग के कैडेट आईएमए से प्रशिक्षण लेने के बाद पास आउट होते हैं। इन कैडेट को मिला सीओएएस (चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ)अवार्ड गोल्ड मेडल-विंग कैडेट कैप्टन कृष्ण कुमार यादाव (जयपुर) सिल्वर मेडल-कंपनी क्वार्टर मास्टर सरजेंट जितेन्द्र सिंह(भिवानी हरियाणा) ब्रांज मेडल-कंपनी कैडेट रंगत सिंह (जम्मू-कश्मीर) कमांडेंट्स बैनर- नबूरा कंपनी जेएनयू की डिग्री मिलते ही झूमे कैडेट देश के प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली की बैचुलर डिग्री मिलते ही कैडेट खुशी से झूम उठे। दीक्षांत समारोह के बाद सभी कैडेट ने एक-दूसरे को बधाई देते हुए खुशी का इजहार किया है। ये सम्मान भी मिला सेवा के विषय में सबसे पहले-कैप्टन कृष्णा कुमार यदाव मानविकी स्ट्रीम में सबसे पहले-कैप्टन कृष्ण कुमार यादा विज्ञान स्ट्रीम में सबसे पहले- कैडेट रंगत सिंह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:JNU degree got 64 cadets in ACC Ceremoni