अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लड़के वालों ने दहेज मांगा तो बहादुर बेटी ने ऐनवक्त पर ठुकराई शादी, फिर उठाया साहसिक कदम

देहरादून की एक लड़की ने अपनी शादी से ऐनवक्त पहले पहले दहेजलोभी ससुराल वालों को सबक सिखाने की ठान ली। उसने अपने हाथों में मेहंदी लगाने की बजाय दहेज के लोभी पति के हाथों में हथकड़ी लगवाने के लिए शादी ठुकरा दी। बहादुर बेटी ने यहीं हिम्मत नहीं हारी, उसने थाने में होने वाले पति और उसके परिवार वालों के खिलाफ शिकायत दी है। पुलिस ने महिला को हेल्प लाइन में ट्रांसफर कर दिया है।  

दरअसल, हर्रावाला क्षेत्र की एक युवती का रिश्ता जोगीवाला में रेलवे कर्मचारी मोहित के साथ तय हुआ था। पांच अक्तूबर को सगाई हुई। 12 फरवरी को लगन दिया गया। 23 फरवरी को शादी तय थी। लड़की पक्ष की ओर से शादी के कार्ड बांटे जा चुके थे। शादी की तैयारियां चल रही थी। आरोप है कि लगन के बाद रेलवे कर्मचारी दूल्हे ने लड़की के पिता और मामा को फोन कर नाराजगी जाहिर करते हुए दहेज की मांग की। दहेज नहीं देने पर रेलवे कर्मचारी ने मामा को स्पष्ट कहा कि वे मात्र एक रुपये में शादी कर लेगा, लेकिन उसके बाद वे कभी अपनी पत्नी के साथ यहां नहीं आएगा। 

दहेज की बात जैसे ही लड़की को पता चली तो उसने परिजनों को समझाते हुए शादी से इंकार कर दिया। बताया जा रहा है कि रिश्ता तय होने के बाद लड़की ने नौकरी भी छोड़ दी थी। लड़की के पिता आर्मी से रिटायर्ड हैं और इस समय एक कंपनी में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करते हैं। वहीं दूसरी ओर लड़की के मामा ने दहेज मांगने की ऑडियो क्लिप हर्रावाला पुलिस को सौंपी है। हर्रावाला पुलिस चौकी इंजार्च ब्रजपाल सिंह ने बताया कि मामले को महिला हेल्प लाइन ट्रांसफर कर दिया गया है। महिला हेल्प लाइन में क्या निर्णय होता है उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

दो लड़कियों से शादी रचाने वाला ये दूल्हा निकला लड़की, होश उड़ा देगी इसकी कहानी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:girl forbids marriage when demanding dowry