excavated roads and delay in laying pipeline causing huge inconvenience to residents in dehradun - रोड की खुदाई से जनता बेहाल तो सफाई की कमी से लोग परेशान DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोड की खुदाई से जनता बेहाल तो सफाई की कमी से लोग परेशान

देहरादून की कॉलोनियों में सड़क और सीवर लाइन के खस्ताहाल होने के कारण लोगों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कालीदास मार्ग पर पेयजल लाइन के लिए खोदी गई सड़क मरम्मत न होने से लोगों के लिए जी का जंजाल बनी हुई है। ‘हिन्दुस्तान’ की पड़ताल में ये सामने आया।
पेयजल लाइन बिछाने के बाद ठीक नहीं की सड़क 

कालीदास रोड की कॉलोनी में सड़कों का बुरा हाल हो गया है। जल संस्थान ने कुछ ही महीने पहले न्यू कैंट रोड से पथरियापीर के लिए आठ इंच की नई पाइप लाइन बिछाई है। मगर लाइन बिछने के बाद भी इस सड़क को ठीक नहीं किया गया है। फिलहाल यहां के लोगों की सबसे बड़ी समस्या ये खस्ताहाल सड़क बन गई है। इसके अलावा लोग सीवर लाइन न होने से भी परेशान हैं।  कालीदास रोड पर पिछले साल बड़े यत्नों से सड़क बनाने का काम पूरा हुआ था। उससे पहले से ये सड़क गड्ढों से भरी हुई थी। इसके बाद सड़क बनी तो कुछ ही महीने पहले जल संस्थान ने आकर इसे खोद डाला। वजह बताई कि न्यू कैंट रोड से कालीदास रोड पर एक किलोमीटर लम्बी आठ इंची पानी की नई लाइन बिछाने का काम किया जाना है। जल संस्थान ने ये काम भी पूरा कर दिया। नई लाइन बिछी और लोगों के कनेक्शन पुरानी से नई लाइन में शिफ्ट कर दिए। मगर इस काम को तीन महीने से ऊपर हो चुके हैं। तबसे लगातार लोग इस सड़क पर हिचकोले खाने को मजबूर हैं। स्कूल जाने वाले बच्चे और दफ्तार जाने को रोजाना इस सड़क पर काफी ज्यादा यातायात रहता है। ऐसे में दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। दुपहिया वाहनों की छोटी मोटी दुर्घटनाएं आम बात हो गई है। कालीदास रोड पर कुछ महीने पहले अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया था। उसके कारण भी सड़क ओर भी ज्यादा टूटी-फूटी लगती है। 


कालीदास रोड में सड़क बनाने का टेंडर प्रक्रिया में आ चुका था। इस बीच आचार संहिता के कारण काम अटक गया। ये काम जल्द ही पूरा होगा। विभागीय अधिकारी और विधायक से इस समस्या को लेकर कई बार बात हुई है। जल्द ही इस पर काम शुरू होने की उम्मीद है। 
रमेश बुटोला, पार्षद, वार्ड नम्बर दस कालीदास रोड


सड़क को लेकर हम बेहद परेशान हैं। इसे जल्द ठीक होना चाहिए। स्कूली बच्चों को आने जाने में बड़ी दिक्कत होती है। हमने जल संस्थान से लेकर पीडब्ल्यूडी, नगर निगम में अर्जियां दीं मगर कहीं से भी ठोस आश्वासन भी नहीं मिला। 
एलसी मधवाल, स्थानीय निवासी

कालीदास रोड पर पुरानी सीमेंट की लाइन से पेयजल सप्लाई होती थी। इसमें कई जगह लीकेज की दिक्कत थी। इसलिए इस लाइन की जगह लोहे की पाइप लाइन बिछाई गई है। ये काम जल निगम कर रहा है। अभी लोगों को कनेक्शन देने का काम चल रहा है। 
मनीष सेमवाल, ईई, जल संस्थान 

 

नेहरू कॉलोनी में सफाई न होने से लोग परेशान 
नेहरू कॉलोनी जी और एच ब्लॉक के लोग सड़कों और नालियों की नियमित सफाई नहीं होने से परेशान हैं। लोग स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ ही नगर निगम में शिकायत करते हैं। फिर भी समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। कॉलोनी में लंबे अर्से से नियमित सफाई नहीं होने से लोग परेशान हैं। नालियां कचरे से अटी पड़ी हैं। सड़कों किनारे जगह-जगह कूड़ा फैला पड़ा है। एच ब्लॉक में एक मैदान से लगी दीवार से सटाकर लोग कूड़ा फेंक देते हैं। नगर निगम कर्मचारी इसे समय पर नहीं उठाते हैं। ऐसे में कूड़े की सड़न से लोग परेशान रहते हैं। इसी ब्लॉक में खाली प्लॉट के सामने सड़क किनारे लोग कूड़ा डालकर छोड़ देते हैं। यहां रविवार को कूड़े में आग लगने से धुआं निकल रहा था।


पुरानी सीवर लाइन बनी सिरदर्द
नेहरू कॉलोनी जी और एच ब्लॉक में पुरानी सीवर लाइन से भी लोग परेशान हैं। आए दिन सीवर लाइन जगह-जगह चोक हो जाती है और सीवर नालियों व सड़कों पर बहता है।लोगों का कहना है कि शिकायत के बाद भी सस्या दूर नहीं हो रही है। 

नेहरू कॉलोनी जी और एच ब्लॉक में सफाई के लिए नगर निगम की ओर से पर्याप्त कर्मचारी तैनात नहीं किए गए हैं। बरसात का मौसम आने वाला है और लंबे समय से क्षेत्र की नालियों की सफाई नहीं की गई है। इससे लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है। 
विवेक कोठारी, जी ब्लॉक निवासी

नेहरू कॉलोनी में सफाई की समस्या है तो उसका समाधान करा दिया जाएगा। सोमवार को कॉलोनी में सफाई की समस्या दूर कर दी जाएगी। लोगों की शिकायत मिलने पर शीघ्र ही समस्या का समाधान किा जा रहा है। 
विनय शंकर पांडे, नगर आयुक्त 

हमारी कॉलोनी की सड़कों की स्थिति खराब है। सड़कों पर चलना मुश्किल हो रखा है। शीघ्र ही सड़कों का निर्माण होना चाहिए, ताकि लोगों को आवाजाही में परेशानी न हो। कॉलोनी में सभी जगह स्ट्रीट लाइटें लगाई जाएं। 
सोहनी भट्ट

चंद्रबनी सड़क के किनारे से बह रहे नाले की सफाई नहीं होती। नाले के ऊपर अतिक्रमण हो गया है। नगर निगम को इस पर ध्यान देना होगा। नाले की सफाई के साथ ही अतिक्रमण हटना चाहिए।
विनोद घिल्डियाल स्थानीय निवासी 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:excavated roads and delay in laying pipeline causing huge inconvenience to residents in dehradun